JharkhandRanchi

उद्योग विभाग का सिंगल विंडो सिस्टम सरकार चलायेगी या एजेंसी, संशय बरकरार

  • मार्च 2020 में एजेंसी अर्नेस्ट एंड यंग (E&Y) का एक्सटेंशन हुआ खत्म.
  • वर्तमान सरकार से नहीं मिला एक्सटेंशन.

Ranchi: सिंगल विंडो सिस्टम सरकार या कोई एजेंसी चलायेगी इस पर संशय बरकरार है. राज्य में सिंगल विंडो सिस्टम का काम संभाल रही अर्नेस्ट एंड यंग (E&Y) एजेंसी को वर्तमान सरकार ने एक्सटेंशन नहीं दिया. एजेंसी पिछले पांच साल से संगल विंडो सिस्टम का काम संभाल रही थी. लेकिन इस साल मार्च में कंपनी का एकरारनामा खत्म हो गया और वर्तमान सरकार की ओर से एजेंसी को एक्सटेंशन नहीं दिया गया.

इसे भी पढ़ें- CoronaUpdate: संक्रमण का टूटा रिकॉर्ड, एक दिन में करीब 17 हजार नये केस, मरीजों की संख्या हुई 4,73,105  

Catalyst IAS
ram janam hospital

तीन महीने पहले ही एजेंसी को कर दिया गया है कार्यमुक्त

The Royal’s
Pitambara
Sanjeevani
Pushpanjali

एजेंसी को कार्यमुक्त हुए तीन महीने हो चुके हैं, लेकिन अभी तक सरकार की ओर से यह तय नहीं किया गया है कि राज्य में अब सिंगल विंडो सिस्टम का काम किस एजेंसी को दिया जायेगा या फिर सरकार खुद ही इस काम को चलायेगी. उद्योग विभाग के अंतर्गत राज्य में सिंगल विंडो सिस्टम संचालित है.

एजेंसी सिंगल विंडो के साथ साथ उद्योग विभाग की सलाहकार भी थी. विभाग के अधिकारियों की मानें तो अब तक इस पर कोई निर्णय नहीं लिया गया है. एजेंसी जब तक बहाल नहीं की जाती, विभाग के कर्मचारी ही काम संभाल रहे हैं. कुछ महीनों पहले इसी बाबत जियाडा में मैनेजर पद पर दो नियुक्ति भी निकाली गयी थी.

इसे भी पढ़ें- नेपाल की जमीन पर चीन का कब्जा! ड्रैगन की हर चाल पर भारत की पैनी नजर

15 से 20 लोगों पर 30 लाख खर्च

पिछले पांच सालों में एजेंसी को प्रतिमाह 30 लाख रूपये सरकार देती थी. जबकि एजेंसी के 15 से 20 कर्मचारी ही राज्य में सिंगल विंडो के तहत काम करते थे. वर्तमान सरकार ने इस खर्च पर आपत्ति जताते हुए एजेंसी को एक्सटेंशन नहीं दिया. उद्योग विभाग के अपने ही कर्मचारी फिलहाल सिंगल विंडो का काम देख रहे हैं.

विभाग की मानें तो विभाग के आठ से दस कर्मचारी अभी इस काम में लगे हैं. जब तक सरकार की ओर से कोई निर्णय नहीं लिया जाता, तब तक काम विभाग के कर्मचारी ही संभालेंगे. फिलहाल अर्नेस्ट एडं वाई एजेंसी के कर्मचारी विभागीय कार्यालय में नहीं बैठ रहे हैं.

इसे भी पढ़ें- इतिहास की सबसे भयंकर मंदी की चपेट में पहुंच चुके हैं हम

ईज ऑफ डूइंग बिजनेस के तहत किया गया था गठन

ईज ऑफ डूइंग बिजनेस के तहत सिंगल विंडो सिस्टम लागू किया गया था. जिसके तहत उद्यमियों और व्यापारियों को एक ही विंडो में सभी विभाग की सर्विसेज मिलती है. ईज ऑफ डूइंग बिजनेस चार साल पहले शुरू किया गया था. वर्तमान में सिंगल विंडो के तहत राज्य के सभी विभाग कार्यरत है. 32 विभागों में 265 सेवाएं दी जा रही है.

3 Comments

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Related Articles

Back to top button