न्यूज़ विंग
कल का इंतज़ार क्यों, आज की खबर अभी पढ़ें

संथाल के विकास के लिए सरकार देगी 50 करोड़ का अतिरिक्त बजट : सीएम

19

Ranchi: संथालपरगना पिछड़ा है और संथालपरगना में भी पाकुड़ एक पिछड़ा जिला है. संथालपरगना को मिलनेवाले बजट के अलावा सरकार संथाल को 50 करोड़ का अतिरिक्त बजट देगी. यह घोषणा मुख्यमंत्री रघुवर दास ने पाकुड़ के पंचायत सोनाजोरी, ग्राम समरेशा में आयोजित जन चौपाल में की. उन्होंने लोगों को संबोधित करते हुए कहा कि राज्य का गठन जिस उद्देश्य से हुआ था वह अब तक पूरा नहीं हुआ है. 14 वर्ष तक गठबंधन की राजनीति चली, नेता मालामाल हुए और राज्य की जनता पीछे रह गई. उक्त बातें मुख्यमंत्री रघुवर दास ने कही. लेकिन राज्य के लिए कुछ किया नहीं. मुख्यमंत्री ने कहा कि संथालपरगना और झारखंड की जनता का रहनुमा बतानेवालों ने वोट की खेती की और जनता को पीछे छोड़ दिया.

जन कल्याणकारी योजना का लाभ देना सरकार का लक्ष्य

मुख्यमंत्री से जन चौपाल में शायमा खातून की बात पर मुख्यमंत्री ने कहा कि पाकुड़ विधानसभा क्षेत्र में 1 लाख 6 हजार परिवार को उज्ज्वला योजना का लाभ देना है. उस दिशा में 35, 787 परिवार को योजना का लाभ अबतक मिला है. राज्य भर के 32 लाख परिवारों को योजना का लाभ देना है. झारखंड ऐसा पहला राज्य है जो गैस सिलेंडर के साथ चूल्हा भी प्रदान कर रहा है. साथ ही पाकुड़ में 40, 451 शौचालय का निर्माण हुआ है. 2014 में मात्र 18% झारखंड खुले में शौच से मुक्त था. राज्य की 7 हजार रानी मिस्त्री, जल साहिया व अन्य के सहयोग से शौचालय से स्वच्छता की ओर बढ़ते हुए 4 साल में 99% झारखंड को खुले में शौच से मुक्त कर दिया गया. उन्होंने उपायुक्त पाकुड़ के शहरी क्षेत्र में भाड़े के घर में निवास कर रहे गरीब परिवारों को चिन्हित कर प्रधानमंत्री आवास योजना का लाभ देने का निर्देश दिया. इसके अलावा आयुष्मान भारत योजना के तहत लोगों को लाभ लेने की अपील की.

14 साल तक आदिवासियों की होती रही अनदेखी

मुख्यमंत्री ने कहा कि 14 सालों तक संथाल में आदिवासी युवक युवतियों के भविष्य की अनदेखी की गई. यह सब हुआ स्थानीय नीति परिभाषित नहीं करने की वजह से. वर्तमान सरकार ने 4 साल के कार्यकाल में स्थानीय नीति को परिभाषित किया. राज्य के 95% युवाओं को नौकरी दी गई. 4 साल में सरकार ने 1 लाख लोगों को रोजगार से आच्छादित किया गया है. आनेवाले दिनों में 1 लाख अन्य युवाओं को रोजगार दिया जाएगा. दिव्यांग युवाओं के लिए 5% आरक्षण का भी प्रावधान किया गया है. 50 किसानों को खेती की उन्नत जानकारी लेने के लिए इजराइल भेजा गया था. आने वाले समय में 50 माहिला और 50 पुरुष किसान को इजरायल और फिलीपींस भेजा जाएगा.

silk_park

24 घंटा मां-बहनें बेखौफ घूम सकें ऐसी व्यवस्था करनी है

मुख्यमंत्री ने कहा कि राज्य की बहनें 24 घंटे बिना डरे घूम सकें ऐसी व्यवस्था देने का प्रयास हो रहा है. उग्रवाद अंतिम सांस गिन रहा है. राज्य के पुलिसकर्मियों ने बेहतर कार्य किया है. उग्रवाद के नाम पर भटके हुए युवा मुख्यधारा से जुड़ कर राज्य का विकास में भागीदारी निभाएं. इस अवसर पर मुख्यमंत्री ने जोहार योजना के तहत बकरी पालन योजना, प्रधानमंत्री आवास योजना, उज्ज्वला योजना, सखी मंडल की महिलाओं को स्वरोजगार हेतु अनुमोदन पत्र, मत्स्य मित्रों को दो पहिया वाहन के लिए 30 हाजर रुपये समेत अन्य जनकल्याणकारी योजनाओं का लाभ देकर लाभान्वित किया.

इसे भी पढ़ें – 75 करोड़ मनरेगा राशि खर्च नहीं कर सकी सरकार, घटी एससी-एसटी कामगारों की संख्याः जेएमएम

हमें सपोर्ट करें, ताकि हम करते रहें स्वतंत्र और जनपक्षधर पत्रकारिता...

Comments are closed.

%d bloggers like this: