न्यूज़ विंग
कल का इंतज़ार क्यों, आज की खबर अभी पढ़ें

सरकार आंगनबाड़ी सेविकाओं को देगी 28 हजार स्मार्ट फोन

पहले दिये गये हैं 12 हजार सेविकाओं को स्मार्ट फोन

98

Deepak

Ranchi : झारखंड सरकार आंगनबाड़ी सेविकाओं की कार्यक्षमता बढ़ाने को लेकर 28 हजार और स्मार्ट फोन देगी. सरकार ने पहले चरण में 12 हजार आंगनबाड़ी सेविकाओं को स्मार्ट फोन दिया है. अब दूसरे चरण में 28 हजार स्मार्ट फोन और खरीदे जायेंगे. महिला और बाल विकास विभाग की तरफ से लिये गये फैसले के तहत आंगनबाड़ी केंद्रों में यह स्मार्ट फोन दिया जायेगा. जल्द ही कैबिनेट की स्वीकृति मिलने के बाद गवर्नमेंट इलेक्ट्रोनिक मार्केट (जेम) के जरिये मोबाइल की खरीददारी पूरी कर ली जायेगी.

राज्य भर में हैं 40 हजार आंगनबाड़ी केंद्र

झारखंड में 40 हजार आंगनबाड़ी केंद्र हैं. इन केंद्रों से सरकार पोषाहार योजना चला रही है. इतना ही नहीं सभी जिलों में अच्छा काम करनेवाले केंद्रों को मॉडल आंगनबाड़ी केंद्र के रूप में भी तब्दील किया जा रहा है. मॉडल आंगनबाड़ी केंद्रों में छह माह से तीन वर्ष तक के बच्चों को प्री-स्कूलिंग की सुविधा भी दी जायेगी. इतना ही नहीं बच्चों के लिए अतिरिक्त पोषाहार और अन्य केंद्रीय योजनाओं का लाभ भी दिया जा रहा है.

Related Posts

अखिल झारखंड प्राथमिक शिक्षक संघ 16 सूत्री मांगों को लेकर 31अगस्त को मुख्यमंत्री का घेराव करेगा

जनसंपर्क अभियान लगातार जारी है. संघ के अनुसार  इस बार आर पार की लड़ाई लड़ने को शिक्षक तैयार है.

SMILE

12 हजार केंद्रों को किया जा चुका है ऑनलाइन

राज्य सरकार की ओर से 12 हजार केंद्रों को ऑनलाइन किया जा चुका है. संबंधित जिलों के जिला समाज कल्याण पदाधिकारी को पोषाहार, अतिरिक्त पोषाहार और अन्य केंद्रीय योजनाओं का लाभ सीधे प्रत्यक्ष नगद हस्तांतरण के जरिये किया जा रहा है. सरकार की तरफ से डीबीटी के माध्यम से सीधे लाभुकों तक राशि विमुक्त की जा रही है. औसतन प्रत्येक केंद्र में आनेवाले 20-25 बच्चों के सारे रिकार्ड भी रखे जा रहे हैं, ताकि उनके स्वास्थ्य, अतिरिक्त पोषाहार के विकास संबंधी आंकड़ें ऑनलाइन महिला और बाल विभाग को दिया जा सके.

हमें सपोर्ट करें, ताकि हम करते रहें स्वतंत्र और जनपक्षधर पत्रकारिता...

Get real time updates directly on you device, subscribe now.

You might also like
%d bloggers like this: