JharkhandKhuntiLead NewsRanchiTOP SLIDER

घर-घर जाकर बच्चों का हेल्थ चेकअप करायेगी सरकार,खूंटी से शुरू होगा अभियान

Ranchi: सरकार अब बच्चों के घर जाकर उनका हेल्थ चेकअप करेगी. सरकारी स्कूलों के बच्चों की घर पर ही कोरोना जांच सहित पूरा हेल्थ चेकअप कराया जाएगा. इसे लेकर प्राथमिक शिक्षा निदेशालय ने तैयारियां शुरू कर दी है. टोटल हेल्थ चेकअप की शुरुआत पायलट प्रोजेक्ट के रूप में पहले खूंटी जिले से करने की तैयारी है. इस जिले में करीब 1.5 लाख बच्चे हैं. कोरोना के साथ-साथ बच्चों में आयरन की मात्रा, हिमोग्लोबिन, कैल्सियम, प्रोटिन व अन्य पौषक तत्वों की जांच की जाएगी. इसके हिसाब से बच्चों को स्कूलों में मिलने वाले मिड डे मील में रिपोर्ट के अनुसार फेरबदल की जा सके. इसी के अनुरूप बच्चों के भोजन में प्रोटिन व आयरन की मात्रा बढ़ायी जा सकेगी.

इसे भी पढ़ें:BIG BREAKING : हजारीबाग के बहोरनपुर से चोरी हुई भगवान बुद्ध की मूर्तियां बिहार से बरामद, एक गिरफ्तार

बच्चों की जांच में यह देखा जाएगा कि बच्चों को कोराना है या नहीं ताकि उसी के हिसाब से उनका इलाज हो और स्कूल खुलने पर उसका खास ख्याल रखा जा सके. जानकारी के अनुसार इस योजना को शुरू करने के लिए पूरा खाखा तैयार कर लिया गया है, विभाग के पास इसके लिए प्रस्ताव भेज दिया गया है, जल्द ही जांच की शुरुआत कर दी जाएगी.

निजी पैथोलॉजी से करायी जाएगी जांच

बच्चों की जांच के लिए निजी पैथोलॉजी की मदद ली जाएगी. इसके लिए निदेशालय की ओर से टेंडर भी निकाला जाएगा. विभाग का मानना है कि जिस भी कंपनी को जांच के लिए जिम्मेदारी दी जाएगी वो बड़ी संख्या में लोगों के जांच सैंपल लेंगे जो कम बजट में संभव हो सकेगा. खूंटी जिले के लिए करीब एक करोड़ का बजट रखा गया है जिससे बच्चों की जांच की जाये. इस योजना को जल्द से जल्द पूरा करने का लक्ष्य रखा गया है. फिलहाल अभी विभाग की हरी झंडी मिलने का इंतजार है.

गर्मी छुट्टी के बाद स्कूल खोलने की है तैयारी

गर्मी छुट्टी के बाद प्रारंभिक स्कूलों को खोलने की तैयारी है. हालांकि इसके लिए आपदा प्रबंधन की अनुमति अनिवार्य होगी. स्कूल प्रबंधकों व सरकार को भी उम्मीद है कि गर्मी छुट्टी तक सभी स्कूल खोल दिए जाएंगे. इस बीच सभी सरकारी स्कूलों के बच्चों का हेल्थ चेकअप भी पूरा हो सकेगा. मालूम हो कि अभी आठवीं से लेकर 12 तक की कक्षाएं खुली है जहां पढ़ाई चल रही है.

इसे भी पढ़ें:सीसीएल के पास पिछले वर्ष की तुलना में 83 प्रतिशत अधिक कोयले का भंडार

Related Articles

Back to top button