न्यूज़ विंग
कल का इंतज़ार क्यों, आज की खबर अभी पढ़ें

बंधु तिर्की के मामले में सीबीआई को कठपुतली तरह इस्तेमाल कर रही सरकार: जितेंद्र वर्मा

45

Ranchi: बुधवार को झारखंड विकास मोर्चा ने बन्धु तिर्की की सीबीआई सहित कई ज्‍वलंत मुद्दों को लेकर राजभवन मार्च किया. इस दौरान झाविमो पारा शिक्षकों की मौत और ई-रिक्‍शा के परमिट से जुड़े मसले को भी उठाया. विरोध प्रर्दशन को  सम्बोधित करते हुए पार्टी के केंद्रीय सचिव राजीव रंजन मिश्रा ने कहा कि भाजपा सरकार लोकतांत्रिक मूल्यों की गला घोंटने पर तूल गयी है. कोलेबिरा उप चुनाव को प्रभावित करने के लिए पार्टी नेता बंधु तिर्की की गिरफ्तारी एवं आन्दोलनरत दो-दो पारा शिक्षकों की मौत से यह साबित हो गया है कि भाजपा आपने खिलाफ उठ विरोध के स्वर को दबाने के लिए किसी हद तक गिर सकती है. उन्होंने कहा कि बंधु तिर्की की गिरफ्तारी पूरी तरह राजनीति से प्रेरित है. सिर्फ चुनाव को प्रभावित करने के लिए यह कुकृत्य सरकार ने सीबीआई से करवाया है.

महानगर अध्यक्ष सुनील गुप्ता एवं ग्रामीण जिलाध्यक्ष प्रभुदयाल बड़ाईक ने कहा कि राज्य की रघुवर सरकार झारखंड के आदिवासियों-मूलवासियों पर जुल्म कर रही है. जान-बूझ कर आदिवासी नेताओं प्रताड़ित किया जा रहा है. अगर बंधु तिर्की की रिहाई अविलम्ब नहीं हुई तो झाविमो राज्य भर में इस आंदोलन को चलाएगी. कहा कि सरकार द्वारा जान बूझ कर ई-रिक्शा चालकों को परमिट के नाम पर परेशान करना बंद करे, अन्यथा पार्टी उनकी लड़ाई को लेकर उग्र आंदोलन करेगी.

2013 में ही सीबीआई क्‍लोजर रिपोर्ट सौंप चुकी है, गिरफ्तारी समझ से परे

महानगर महासचिव जितेंद्र वर्मा ने कहा कि जब सीबीआई ने बंधु तिर्की के खिलाफ न्यायालय ने 2013 में ही क्लोजर रिपोर्ट सौंप चुकी है, तब इस मामले में गिरफ्तारी समझ से परे है. उन्होंने कहा कि सरकार सीबीआई को समय-समय पर जरूरत के अनुसार कठपुतली तरह इस्तेमाल करती है. दो-दो पारा शिक्षकों की मौत पर कहा कि सरकार की संवेदना बिल्कुल मर चुकी है. सरकार पूंजीपतियों एवं बाहरी शक्तियों के प्रभाव में आकर राजनैतिक फायदे के लिए आदिवासी-मूलवासी विरोधी निर्णय ले रही है. उन्होंने पार्टी नेता बंधु तिर्की की अविलंब रिहाई की मांग की.

SMILE

विरोध प्रर्दशन में बड़ी संख्या में पार्टी कार्यकर्ता शमिल हुए. जिनमें महिला मोर्चा की केंद्रीय अध्यक्ष शोभा यादव, महानगर महासचिव जितेंद्र वर्मा, केंद्रीय सदस्य सुचिता सिंह, आदित्य मोनू, नजीबुल्लाह खान, बल्कु उरांव, शिवा कच्छप, सज्जाद अंसारी, मुन्ना बड़ाईक, राम मनोज साहू, पंकज पांडेय, अजय कच्छप, अभिजीत दत्ता, बंधना उरांव,शिव संकर साहू, विनीता मुंडा, राहुल शाहदेव, रूपचन्द केवट, शशि साहू, दीपू सिन्हा, चांद मंसूरी, मचकुर सिद्धकी, इस्तियाक अंसारी, लक्षमण साहू, जयंत बारला, नान्हे कच्छप, मंसूर अंसारी, कन्हैया महतो, नेहा सिंह, नदीम इकबाल,गोपेश्वर महतो, मंगलेश्वर उरांव सहित पार्टी के दर्जनों पदाधिकारियों ने संबोधित किया.

इसे भी पढ़ें: राहुल गांधी को पीएम के रूप में प्रोजेक्ट करना उतावलापन : हेमंत सोरेन

हमें सपोर्ट करें, ताकि हम करते रहें स्वतंत्र और जनपक्षधर पत्रकारिता...

Get real time updates directly on you device, subscribe now.

You might also like
%d bloggers like this: