JharkhandRanchi

नवरात्रि पूजन में 25 लोगों को शामिल होने की अनुमति देने पर विचार करे सरकार : सुप्रियो

  • नवरात्रि पूजन पर जारी दिशा-निर्देशों में बदलाव की मांग को लेकर जेएमएम ने सीएम को लिखा पत्र

Ranchi : राज्य सरकार के नवरात्र उत्सव के पालन हेतु जारी राज्य सरकार के जारी दिशानिर्देशों में बदलाव की मांग अब सत्तारूढ़ दल झारखंड मुक्ति मोर्चा ने की है. इस बाबत पार्टी महासचिव सह प्रवक्ता सुप्रियो भट्टाचार्य ने मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन को पत्र लिखा है. पत्र की प्रतिलिपि मुख्य सचिव और राज्य के डीजीपी को भी दी गयी है.

पत्र के जरिये जेएमएम नेता ने कहा है कि राज्य सरकार ने पूजा अवधि के दौरान पूजा पंडालों में पुजारी, उनके सहित कुल 7 लोगों को सम्मिलित होने की बात की है. जबकि वास्तविकता यह है कि इस पूजन में कहीं ज्यादा लोगों की आवश्यकता होती है. विशेषकर पूजन विधि में कन्या पूजा का विशेष प्रावधान है, जिसमें न्यूनतम 11 कुमारी कन्याओं की पूजा होती है.

जेएमएम नेता ने कहा है कि कोरोना काल में जहां सामाजिक आयोजन जैसे विवाह, मुंडन, गृह-प्रवेश में 50 लोगों के आने की अनुमति प्राप्त है तो नवरात्र पूजन में भी सरकार कम से कम 25 लोगों को उपस्थित होने की अनुमति प्रदान करें.

इसे भी पढ़ें – गढ़वा-पलामू के किसानों को FCI का नहीं मिल रहा लाभ, बिचौलियों का खतरा बढ़ा: मिथिलेश

पूजा स्थलों से लॉउडस्पीकर का प्रयोग करने की मिले अनुमति

पत्र में सुप्रियो भट्टाच्रार्य ने कहा है कि नवरात्र पूजन के दौरान किसी प्रकार के मेले या सांस्कृतिक जुटान पर मनाही है, जिसका सभी राज्य वासियों ने स्वागत किया है. लेकिन पूजन विधि में आरती या वेद मंत्रोच्चार के समय लॉउडस्पीकर बनाने पर मनाही है.

हकीकत यह है कि कहीं ऐसे लोग हैं जो अस्वस्थता के कारण मंदिर नहीं पहुंच पाते हैं. अतः उनकी मांग है कि पूजा स्थलों से लॉउडस्पीकर का प्रयोग कर संपूर्ण पूजन कर्मकांड पुष्पांजलि के मंत्र का प्रसारण करने की अनुमति सरकार दे.

इसे भी पढ़ें –मोरहाबादी में 20 अक्तूबर को सरना कोड के लिए होगी महारैली

विसर्जन शोभा यात्रा में मिले अधिकतम 25 लोगों को अनुमति

इसी तरह नवरात्र समाप्ति के पश्चात मां दुर्गा के प्रतिमा विसर्जन के समय भी केवल 3 लोगों को ही विसर्जन के अनुमति प्राप्त हैं, जो की पूरी तरह अतार्किक एवं अव्यवहारिक है. जेएमएम नेता ने मुख्यमंत्री से मांग की हैं कि विसर्जन शोभा यात्रा के अधिकतम 25 लोगों को सामाजिक दूरी के साथ मास्क लगातर आने की अनुमति प्रदान करें.

इसे भी पढ़ें –कांग्रेस की लिखी स्क्रिप्ट पढ़ रहे हैं हेमंत, वित्तीय अराजकता की ओर झारखंड : दीपक प्रकाश

Advertisement

Related Articles

Back to top button
%d bloggers like this: