NEWS

मॉडल स्कूल के रूप में विकसित होंगे सरकारी विद्यालय, सभी सुविधाओं से होगा लैस

–  स्कूल खोलने को लेकर सरकार का गाइडलाइन होगा फॉलो

Jharkhand Rai

Ranchi : पलामू जिले के सरकारी स्कूल को मॉडल स्कूल के रूप में विकसित किया जायेगा. मॉडल स्कूल पुस्तकालय, प्रयोगशाला, शुद्ध पेयजल, सोलर सिस्टम, प्ले ग्राउंड जैसी सुविधाओं से लैस होगा. मॉडल स्कूल विकसित करने की कवायद शुरू कर दी गयी है. इसे लेकर उपायुक्त शशि रंजन ने बैठक की.

बैठक में उन्होंने सरकारी स्कूलों को मॉडल बनाने को लेकर स्कूल चयन करने का निर्देश दिया. इसके साथ-साथ बैठक में उन्होंने समग्र शिक्षा अभियान, जिला शिक्षा पदाधिकारी एवं जिला शिक्षा अधीक्षक के कार्यो और गतिविधियों की समीक्षा भी की.

इसे भी पढ़ें – पश्चिमी सिंहभूम के 14 प्रखंड में हैं बिना भवन के 69 स्कूल, जहां पढ़ रहे 1200 स्टूडेंट्स

Samford

राज्य सरकार की गाइडलाइन के बाद खुलेंगे स्कूल

उपायुक्त ने बैठक के दौरान कहा कि 21 सितंबर से स्कूल खोलने की बातें हो रही हैं. इससे संबंधित राज्य सरकार की ओर से गाइडलाइन जारी होगा. जिला में उसे फॉलो करते हुए स्कूल खोलने से संबंधित निर्णय होगा. उन्होंने प्रत्येक माह जिला स्थापना समिति की बैठक करने का निर्देश दिया.

इसके अलावा शिक्षकों की प्रोन्नति, सेवा निवृत्ति, पेंशन, सर्विस बुक, निलंबन से संबंधित मामलों को रखने का निर्देश दिया. वहीं प्रत्येक माह पेंशन अदालत का आयोजन कर समस्याओं को दूर करने का निर्देश दिया. वहीं पे-रिवीजन के संबंध में प्रत्येक माह बैठक आयोजित करने का निर्देश दिया.

उपायुक्त ने कस्तूरबा गांधी आवासीय विद्यालय में अंशकालिक शिक्षकों के मानदेय भुगतान संबंधी विसंगतियों को दूर करने का निर्देश दिया. साथ ही अभियंताओं को निर्देश दिया कि जो स्कूल भवन का निर्माण कार्य पूर्ण हो गया है, उसका शीघ्र एनओसी दें. उपायुक्त ने अधिक बच्चे वाले स्कूलों की सूची उपलब्ध कराने का निर्देश दिया, ताकि बच्चों की संख्या के अनुरूप क्लास रूम का निर्माण कार्य कराया जा सके.

एक सप्ताह में पारा शिक्षकों की जानकारी करें अपलोड

डीसी ने पारा शिक्षकों का व्यक्तिगत चयन/ प्रमाण पत्रों को ई-विद्या वाहिनी के पोर्टल पर 1 सप्ताह के भीतर अपलोड करने और पारा शिक्षकों का सत्यापित विवरण को उपलब्ध कराने का स्पष्ट निर्देश दिया. साथ ही डीजी साथ के तहत ऑनलाइन क्लासेस निरंतर संचालित करते रहने का भी निर्देश दिया.

इसे भी पढ़ें – कोरोना काल में बढ़ रहा है डिप्रेशन : अकेलापन, आर्थिक तंगी में लोग कर रहे सुसाइड

Advertisement

One Comment

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Related Articles

Back to top button
%d bloggers like this: