JharkhandLead NewsRanchi

सरकारी स्कूलों को सीबीएसइ से मान्यता मिलने में हो रही दिक्कत, अब अगले साल से शुरू होगी पढाई

Ranchi : राज्य में 80 स्कूलों को मॉडल स्कूल बनाने की तैयारी स्कूली शिक्षा एवं साक्षरता विभाग कर रहा है. इसके लिए राज्य भर से स्कूलों का चयन किया गया है. मॉडल स्कूल बनाने के प्रोजेक्ट्स के तहत इन स्कूलों को सेंट्रल बोर्ड ऑफ सेकेंडरी एजुकेशन से मान्यता दिलाने की बात है. इसके लिए शिक्षा परियोजना की ओर से पत्राचार किया गया है. लेकिन इनमें से कई स्कूलों को मान्यता नहीं मिल पायी है. ऐसे स्कूलों में इन्फ्रास्ट्रक्चर की कमी को देखते हुए मान्यता देने से माना किया गया है. ऐसा होने के बाद अब इन स्कूलों में अगले साल से पढाई शुरू करने पर बात हो रही है.

इसे भी पढ़ें : हाइकोर्ट ने विधायक दीपिका पांडेय पर किसी भी तरह की कानूनी कार्रवाई करने पर लगायी रोक

advt

जमशेदपुर के तीन स्कूलों को नहीं मिली मान्यता

मॉडल स्कूल बनाने की प्रक्रिया के तहत जमशेदपुर के तीन स्कूलों का चयन किया गया था. इनमें बीपीएम प्लस टू उवि बर्मामाइंस, जमशेदपुर बालिका उवि साकची व कस्तूरबा गांधी आवासीय बालिका उवि सुंदरनगर शामिल हैं. इन स्कूलों को सीबीएसई से मान्यता दिलाने के लिए बोर्ड के पास प्रस्ताव भेजा गया था.

योजना के तहत इन स्कूलों को इसी सत्र से सीबीएसई स्कूल में बदला जाना था, लेकिन इनकी खराब आधारभूत संरचना व कर्मचारियों की कमी की वजह से मान्यता नहीं मिली. सीबीएसई ने सरकार से कहा है कि पहले इन स्कूलों में आधारभूत संरचना विकसित कर पर्याप्त शिक्षक और कर्मचारी नियुक्त करें फिर मान्यता देने पर विचार करेगा. योजना के अनुसार इन स्कूलों में पहली से 12वीं कक्षा तक की पढ़ाई होगी. जमशेदपुर के अलावा कई अन्य जिलों में भी ऐसे स्कूल हैं.

क्या है मॉडल स्कूल प्रोजेक्ट्स

शिक्षा विभाग राज्य के 80 स्कूलों को उत्कृष्ट बनाने की दिशा में भी काम कर रहा है. इन स्कूलों में अंग्रेजी माध्यम से पढ़ाई करायी जायेगी. राज्य के हर जिले के एक गर्ल्स स्कूल को उत्कृष्ट बनाया जायेगा. इन स्कूलों में अंग्रेजी माध्यम से पढ़ाई कराने के लिए शिक्षकों की नियुक्ति की जायेगी. उत्कृष्ट बनने वाले स्कूलों में कस्तूरबा स्कूल सहित सरकार के अन्य स्कूल शामिल हैं.

इसे भी पढ़ें : Ranchi NEWS : त्योहारों के समय में भी लगा कचरे का ढेर, निगम और एजेंसी के बीच पीस रही पब्लिक

Related Articles

Back to top button
%d bloggers like this: