न्यूज़ विंग
कल का इंतज़ार क्यों, आज की खबर अभी पढ़ें

सरकार की योजना हुई फेल, नहीं बन रहा महिलाओं का मुफ्त ड्राइविंग लाइसेंस

768

Ranchi : झारखंड सरकार ने तीन साल पहले झारखंड में महिलाओं का मुफ्त में ड्राइविंग लाइसेंस बनाने की घोषणा की थी. लेकिन, सच्चाई यह है कि महिलाओं का मुफ्त में ड्राइविंग लाइसेंस नहीं बनाया जा रहा है. महिलाओं को ड्राइविंग लाइसेंस बनवाने के लिए पैसे देने पड़ रहे हैं. सरकार द्वारा की गयी घोषणा फेल नजर आ रही है.

इसे भी पढ़ें- 20 को पूरे राज्य में चक्का जाम करेगा झारखंड मोटर फेडरेशन

2015-2016 के बजट में की गयी थी घोषणा

झारखंड सरकार ने 2015-2016 के बजट में घोषणा की थी कि राज्य में महिलाओं का ड्राइविंग लाइसेंस मुफ्त में बनाया जायेगा. महिलाओं से ड्राइविंग लाइसेंस बनाने का कोई शुल्क नहीं लिया जायेगा. लेकिन, सरकार की इस योजना का लाभ महिलाओं को नहीं मिल रहा है. आज तक परिवहन विभाग की तरफ से कोई निर्देश जारी नहीं किया गया है, जिस वजह से महिलाओं का ड्राइविंग लाइसेंस मुफ्त में नहीं बन पा रहा है. सरकार की घोषणा के बाद परिवहन विभाग द्वारा इससे संबंधित प्रस्ताव को कैबिनेट की स्वीकृति मिलने के बाद इसके लिए होर्डिंग और एलईडी वैन के माध्यम से प्रचार-प्रसार किया गया था.

इसे भी पढ़ें- आदित्य स्वरुप की बेंच के बारे में मांगी गई सूचना, आदित्य स्वरुप ही करेंगे सूचना पर सुनवाई

यह है ड्राइविंग लाइसेंस बनाने का शुल्क

silk_park

दो चक्का और चार चक्का वाहन का लर्निंग लाइसेंस बनवाने के लिए 300 रुपये शुल्क लगता है. दो चक्का और चार चक्का वाहन के ड्राइविंग लाइसेंस के लिए 700 रुपये शुल्क लगता है.  दोनों तरह के वाहनों के स्थायी ड्राइविंग लाइसेंस बनवाने के लिए 1000 रुपये शुल्क लगता है.

इसे भी पढ़ें- मनरेगा : सुप्रीम कोर्ट के आदेश के बावजूद 17 करोड़ 85 लाख रुपये का भुगतान पेंडिंग

विभाग से इस बारे में कोई पत्र नहीं मिला है : डीटीओ

इधर, परिवहन विभाग से इस मामले में जब बात की गयी, तो डीटीओ नागेंद्र पासवान ने कहा कि महिलाओं को मुफ्त में ड्राइविंग लाइसेंस देने से संबंधित कोई पत्र विभाग की तरफ से प्राप्त नहीं हुआ है. इस वजह से महिलाओं के लिए मुफ्त में ड्राइविंग लाइसेंस नहीं बनाया जा रहा है.

न्यूज विंग एंड्रॉएड ऐप डाउनलोड करने के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पेज लाइक कर फॉलो भी कर सकते हैं. 

हमें सपोर्ट करें, ताकि हम करते रहें स्वतंत्र और जनपक्षधर पत्रकारिता...

Comments are closed.

%d bloggers like this: