JharkhandLohardaga

सरकारी पैसा भी जनता का धन, इसके दुरुपयोग के खिलाफ आवाज़ उठाएं- लोकायुक्त

Lohardaga: लोहरदगा नगर भवन में लोकायुक्त ने भ्रष्टाचार को मिटाने के लिए लोगों को जागरूक किया. मौके पर ही करीब दर्जन भर मामलों पर सुनवाई हुई. विभिन्न विभागों और लोकसेवकों द्वारा भ्रष्टाचार से जुड़े 64 मामले आए, जिनमें सत्यता की पुष्टि कर लोकायुक्त कार्रवाई करेंगे.

इसे भी पढ़ें-पांच साल में झारखंड से गायब हुए 2789 बच्चे, लगभग आधे का नहीं मिल सका सुराग

सरकारी धन के दुरुपयोग की शिकायत करें- लोकायुक्त

Chanakya IAS
SIP abacus
Catalyst IAS

इस मौके पर लोकायुक्त बी एन उपाध्याय ने कहा कि अच्छी व्यवस्था पुनर्स्थापित करना हर नागरिक का उत्तर दायित्व है. आपके निजी धन की चोरी पॉकेट मारी हो जाए तो आप तुरंत रिएक्ट करते हैं. कानून की मदद लेते हैं. सरकारी धन जनता का धन है. योजनाओं और निर्माण कार्यों में इसका दुरुपयोग होता है तो आवाज़ उठाएं.

The Royal’s
MDLM
Sanjeevani

इसे भी पढ़ें- अंडरग्राउंड केबलिंग का काम हो गया अंडरग्राउंड, फ्यूज हो गया 24 घंटे बिजली सप्लाई का दावा

पेशरार एक्शन प्लान में गड़बड़ी का मामला उठा

पेशरार में पहली ही बरसात में सड़क बहने की चर्चा करते हुए उन्होने कहा कि ऐसे मामलों पर सिर्फ चर्चा नहीं होनी चाहिए. आरटीआई का लाभ उठाएं. तथ्यों के साथ लोकायुक्त कार्यालय में शिकायत करें, कार्रवाई अवश्य होगी. उन्होने अधिवक्ताओं से भी आग्रह किया कि सिर्फ फीस लेकर केस न लड़ते रहें. अगर आपके आस-पास भ्रष्टाचार है तो उसके बारे में शिकायत करें. उन्होने कहा कि मीडिया कर्मियों को भी भ्रष्टाचार के मालों को उजागर करते रहना चाहिए, तभी भ्रष्टाचार का दानव खत्म होगा.

इसे भी पढ़ें-खुल गई 74 करोड़ की पेशरार एक्शन प्लान योजना की पोल

‘भ्रष्टाचार की शिकायत करने वालों को मिलेगी सुरक्षा’

लोकायुक्त ने कहा कि पैरालीगल वालंटियर्स भी इस दिशा में जागरूक और सक्रिय रहें. अगर भ्रष्टाचार का मामला उठाने पर किसी को डराया धमकाया जाता है, तो उसके सुरक्षा की भी व्यवस्था की जाएगी. व्यक्तिगत द्वेष नहीं बल्कि समाज और सामूहिक हितों को नुकसान पहुंचाने का काम हो रहा है, तभी उसे लोकायुक्त के पास लाएं. किसी काम के लिए दलाल के चक्कर में ना पड़ें.

ड्राइव अगेंस्ट करप्शन कार्यक्रम में मौजूद गणमान्य लोग
ड्राइव अगेंस्ट करप्शन कार्यक्रम में मौजूद गणमान्य लोग

इसे भी पढ़ें- लोहरदगा के सेन्हा में ग्रामीण की हत्या, जांच में जुटी पुलिस

सीएम को छोड़ हर किसी के खिलाफ शिकायत की होगी जांच

लोकायुक्त के सचिव संजय कुमार ने विषय प्रवेश कराते हुए लोगों को बताया कि भ्रष्टाचार के मामलों को कैसे लोकायुक्त के समक्ष लाया जा सकता है. राज्य सरकार के अंतर्गत कार्य करने वाले लोक सेवकों द्वारा भ्रष्टाचार के मामलों की सुनवाई यहां होगी. शिकायत के साथ अपना पूरा नाम, पता, आधार और मोबाइल नंबर और मामले से जुड़े तथ्य समर्पित करें. मुख्यमंत्री को छोड़कर किसी भी मंत्री, सरकारी अधिकारी कर्मी के खिलाफ शिकायत की जा सकती है. शिकायत के बाद हर डेट पर शिकायतकर्ता को आने की आवश्यकता नहीं है. जरूरत पड़ने पर ही उसे बुलाया जाता है.

इसे भी पढ़ें-मासूम बच्चों के पोषाहार पर भी ग्रहण, चार माह से नहीं मिल रहा पोषाहार, कैसे तंदरूस्त होंगे बच्चे

किन लोगों की शिकायतों की सुनवाई हुई ?

धनंजय नाथ तिवारी, सज्जाद खान, रितेश कुमार, बसीर अंसारी, महेश कुमार सिंह संदीप कुमार गुप्ता, रामचरित्र गोप, शिखा कुमारी, सलमा खातून आदि की शिकायतों को लोकायुक्त ने सुना और उन्हें जरूरी दस्तावेजों के साथ आवेदन देने को कहा.

इसे भी पढ़ें- “सिंह मेंशन को टेंशन” देने में पहली बार उछला ‘गैंग्स ऑफ वासेपुर’ का नाम

कौन-कौन थे मौजूद ?

शिविर में शिकायतकर्ताओं को बिना अष्टम और शपथपत्र के ही आवेदन देने की छूट दी गई. विधिक सेवा प्राधिकार लोहरदगा के सचिव लक्ष्मीकांत, बार एसोसिएशन अध्यक्ष डॉ पी के पुजारी ने भी कार्यक्रम को संबोधित किया. कार्यक्रम का संचालन राष्ट्रीय अध्यापक पुरस्कार प्राप्त गणेश लाल और धन्यवाद ज्ञापन रांची विश्वविद्यालय के पूर्व अध्यापक डॉ अर्जुन देव शर्मा ने किया. इस मौके पर बार एसोसिएशन के सचिव हेमंत कुमार सिन्हा ,मदन मोहन पांडेय, वैद्यनाथ मिश्र, प्रो शमीमा खातून, देवाशीष कार, विमल किशोर नारायण तिवारी, राखा साहू, संजय बर्मन, प्रो स्नेह कुमार, प्रो पी एन अग्रवाल, मालती वर्मा, प्रो लोहरा उरांव, बी एन झा सहित काफी संख्या में लोग मौजूद थे.

न्यूज विंग एंड्रॉएड ऐप डाउनलोड करने के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पेज लाइक कर फॉलो भी कर सकते हैं

Related Articles

Back to top button