न्यूज़ विंग
कल का इंतज़ार क्यों, आज की खबर अभी पढ़ें

सरकार मूलनिवासियों पर बरसा रही लाठी और बाहरियों को दे रही नौकरी : प्रदीप यादव

158

Ranchi : झारखंड विकास मोर्चा के केंद्रीय महासचिव प्रदीप यादव ने संवाददाता सम्मेलन में रघुवर सरकार पर निशाना साधते हुए राज्य स्थापना दिवस समारोह में पारा शिक्षकों एवं पत्रकारों पर हुए लाठीचार्ज की निंदा की और इसे सरकार का घिनौना कृत्य करार दिया. प्रदीप यादव ने कहा कि एक ओर राज्य के मूलनिवासी पारा शिक्षकों पर सरकार लाठीचार्ज कर रही है, वहीं दूसरी ओर 1235 शिक्षकों को नियुक्ति पत्र दिये जाने का काम किया जा रहा था, जिसमें 60 से 65 प्रतिशत बहरी लोगों को नियुक्ति पत्र दिया गया है. इससे राज्य के युवाओं का साजिश के तहत हक मारने का काम किया जा रहा है.

इसे भी पढ़ें- गिरफ्तार पारा शिक्षक भेजे गए जेल, लगी आठ संगीन धाराएं, रांची के बाद दूसरे जिलों के पारा शिक्षक भी…

आरक्षित श्रेणी में भी की जा रही सेंधमारी

प्रदीप यादव ने कहा कि केमिस्ट्री विषय में कुल 74 बहाली सूची जारी हुई, जिसमें आरक्षित कोटे की 37 सीटें थीं. इसमें 36 नियुक्ति पत्र राज्य के बाहर के लोग को दिया गया. इसमें बंगाल के 21, यूपी के 11, एमपी के एक हैं. 11 विषयों के कुल 1235 शिक्षकों को दिये गये नियुक्ति पत्र में 60 प्रतिशत अनारक्षित सीटों पर राज्य से बहार के लोगों को नियुक्ति पत्र दिया गया. अनारक्षित वर्ग के 617 लोगों को नियुक्ति पत्र मिला. उसमें 462 बहारी हैं. रघुवर सरकार द्वारा साजिश के तहत राज्य के युवाओं का हक मारा जा रहा है. अनारक्षित श्रेणी में बाहरी लोगों को नौकरी दी जा रही है. आरक्षित श्रेणी में भी सेंधमारी की जा रही है. राज्य में शिक्षा व्यवस्था पूरी तरह चरमरा गयी है, जिसके लिए राज्य सरकार दोषी है. सरकार की गलत स्थानीयता नीति के कारण राज्य के हालात गंभीर होते जा रहे हैं, जिसकी दोषी भाजपा सरकार है.

इसे भी पढ़ें- एसडीएम मैडम कहती रहीं No लाठीचार्ज, सिपाही पारा शिक्षकों पर बरसाते रहे लाठियां, एसडीएम ने कहा- गलत…

स्थानीयता नीति को पुनः परिभाषित करे सरकार

उन्होंने कहा कि झारखंड विकास मोर्चा सरकार से मांग करती है कि स्थानीयता नीति को पुन: परिभाषित करे. साथ ही सरकार नियुक्ति पर रोक लगाये. स्थापना दिवस पर पारा शिक्षकों एवं पत्रकारों पर हुए लाठीचार्ज की न्यायिक जांच करायी जाये. संवाददाता सम्मेलन में केंद्रीय सचिव सरोज सिंह, प्रवक्ता योगेंद्र प्रताप सिंह, सचिव संतोष कुमार और केंद्रीय मीडिया प्रभारी तौहीद आलम मौजूद थे.

हमें सपोर्ट करें, ताकि हम करते रहें स्वतंत्र और जनपक्षधर पत्रकारिता...

Get real time updates directly on you device, subscribe now.

Comments are closed.

%d bloggers like this: