न्यूज़ विंग
कल का इंतज़ार क्यों, आज की खबर अभी पढ़ें
bharat_electronics

सरकारीकर्मियों के हिंदी ज्ञान और टाइपिंग का होगा टेस्ट

तीन फरवरी को होगी परीक्षा, आधे से अधिक हो जाते हैं फेल, 22 जुलाई 2018 को हुए एग्जाम में 2059 ही हुए पास, 18 दिसंबर को निकला था नतीजा

326

Ranchi: राज्य सरकार अपने कर्मियों के हिंदी ज्ञान और टाइपिंग की परीक्षा फिर लेगी. हर वर्ष दो बार सरकारी अधिकारियों और कर्मियों के हिंदी टाइपिंग और लिखने-पढ़ने की योग्यता की जांच की जाती है. कार्मिक प्रशासनिक और राजभाषा सुधार विभाग की तरफ से ली जानेवाली परीक्षा में अमूमन सभी प्रमंडलों, जिला और राज्य मुख्यालय में नौ हजार से अधिक कर्मी शामिल होते हैं. विभाग की ओर से इसका नतीजा भी कार्मिक विभाग की वेबसाइट पर अपलोड किया जाता है. परीक्षा के नतीजे भी संतोषजनक नहीं रहते हैं. हिंदी टाइपिंग और शार्ट हैंड तथा हिंदी के ज्ञान की परीक्षा में 45-47 प्रतिशत कर्मी अनुतीर्ण हो जाते हैं. सरकार के ही आंकड़े को मानें तो जनवरी 2018 में 8595 परीक्षार्थियों ने हिंदी ज्ञान की परीक्षा दी थी. इसमें से 4434 उत्तीर्ण हुए थे, जबकि 4149 अनुत्तीर्ण हुए थे.

eidbanner

22 जुलाई की परीक्षा में मात्र 2059 को ही हिंदी का ज्ञान

कमोबेश यही स्थिति जुलाई 2018 में ली गयी परीक्षा में भी दिखा. इसके नतीजे वेबसाइट में प्रमंडल और जिलावार अपलोड कर दिये गये हैं. इस परीक्षा में मात्र 2059 अधिकारी और कर्मियों को ही हिंदी का बेहतर ज्ञान है. कार्मिक विभाग की ओर से जिलावार इसके नतीजे घोषित किये गये हैं. इसमें उत्तरी छोटानागपुर प्रमंडल में दो सौ, दक्षिणी छोटानागपुर प्रमंडल में 136 उत्तीर्ण हुए हैं.

किस जिले में कितने अधिकारी, कर्मियों को है हिंदी का ज्ञान, 22.7.2018 की परीक्षा का नतीजा

Related Posts
mi banner add

       जिले का नाम                  हिंदी में उत्तीर्ण

  • सरायकेला-खरसावां      33
  • पूर्वी सिंहभूम                 143
  • पश्चिमी सिंहभूम            161
  • लोहरदगा                     70
  • गुमला                          74
  • सिमडेगा                      72
  • खूंटी                            54
  • बोकारो                      114
  • रामगढ़                      30
  • पलामू                        266
  • साहेबगंज                 23
  • पाकुड़                      16
  • जामताड़ा                11
  • कोडरमा                 24
  • गिरिडीह                144
  • चतरा                     58
  • धनबाद                  112
  • गढ़वा                    115
  • लातेहार                 131
  • दुमका                   76
  • गोड्डा                     23
  • देवघर                   84

इसे भी पढ़ें – श्रम नियोजन एवं प्रशिक्षण विभाग के प्रधान सचिव राजीव अरुण एक्का को श्रमायुक्त का प्रभार

हमें सपोर्ट करें, ताकि हम करते रहें स्वतंत्र और जनपक्षधर पत्रकारिता...

Get real time updates directly on you device, subscribe now.

dav_add
You might also like
addionm
%d bloggers like this: