न्यूज़ विंग
कल का इंतज़ार क्यों, आज की खबर अभी पढ़ें

#Government_Job : केंद्र सरकार में सात लाख नौकरियां, पदों को भरने का निर्देश जारी

केंद्र सरकार में 7 लाख पद खाली हैं. यानी 7 लाख नौकरियां हैं,कैबिनेट की समिति की 23 दिसंबर 2019 को हुई बैठक में सभी मंत्रालयों/विभागों में खाली पड़े पदों को भरने का निर्देश दिया गया है.

739

NewDelhi : केंद्र सरकार में 7 लाख पद खाली हैं. यानी 7 लाख नौकरियां हैं. देश की खस्ताहाल अर्थव्यवस्था और कथित मंदी के दौर बीच 23 जनवरी को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के नेतृत्व वाली NDA सरकार द्वारा कई सरकारी विभागों में रिक्त पदों का डेटा सार्वजनिक किया है.

जारी आंकड़ों के अनुसार लगभग सात लाख पद खाली हैं. इनमें सबसे अधिक Group C में नौकरियां बतायी गयी हैं. ग्रुप सी के कर्मचारियों को नौ हजार रुपए प्रति माह से 34,500 रुपए तक प्रति माह वेतन मिलता है. यह आंकड़ा पांच लाख 75 हजार के आसपास बताया गया है.

Aqua Spa Salon 5/02/2020

इसे भी पढ़ें : #Shashi_Tharoor ने भी कहा,  CAA के खिलाफ प्रस्ताव राजनीतिक कदम, इसमें राज्यों की भूमिका नहीं के बराबर

Group B में  90 हजार, Group A में 20 हजार पद हैं

डेटा के अनुसार Group B में लगभग 90 हजार और Group A में तकरीबन 20 हजार पद हैं, जो भरे जाने हैं. जान लें कि  ग्रुप बी की नौकरियों में Police Head Constables, Junior Engineers, TTEs, Tax Assiatnst, Stenographers और Typist आदि पद आते हैं. विभिन्न मीडिया रिपोर्ट्स में सूत्रों के हवाले से खबरें आ रही हैं कि सरकार ने इन पदों को भरने के निर्देश जारी किये हैं. ऐसे में कहा जा रहा है कि इन नौकरियों पर भर्तियों के लिए व्यवस्थित तरीके से भर्ती अभियान चलाया जा सकता है.

इसे भी पढ़ें :  लोकतंत्र सूचकांक में भारत 10 स्थान लुढ़का, चिदंबरम ने कहा- सत्ता में बैठे टुकड़े-टुकड़े गैंग हैं गिरावट की वजह

सात लाख पदों को जल्द से जल्द भरने का निर्देश 

सभी मंत्रालयों और विभागों को कार्मिक और प्रशिक्षण विभाग इससे पहले पत्र भी लिख चुका है. 21 जनवरी को इस संबंध में लिखे गये पत्र में केंद्र के इन सात लाख पदों को जल्द से जल्द भरने के लिए उचित कदम उठाने के लिए कहा गया है. कुछ रिपोर्ट्स में इस पत्र के हवाले से बताया गया है कि निवेश और विकास पर कैबिनेट की समिति की 23 दिसंबर 2019 को हुई बैठक में सभी मंत्रालयों/विभागों में खाली पड़े पदों को भरने का निर्देश दिया गया है.

बताया गया कि सरकार ने ये सभी पद भरने के लिए उठाये गये कदमों की रिपोर्ट भी मांगी है, जो संबंधित विभागों, मंत्रालयों और अधिकारियों को हर महीने पांचवे दिन सौंपनी होगी. वहीं, इसी माह की शुरुआत में Indian Railways ने 2.3 लाख वैकेंसियां खाली होने की बात मानी थीय

Gupta Jewellers 20-02 to 25-02

इससे पहले सरकार, संसद में नवंबर 2019 में बता चुकी है कि 2014 के बाद से कर्मचारियों की संख्या में गिरावट आयी है, सैंक्शन पदों की संख्या में गिरावट आयी है. यह आंकड़ा 1.57 लाख के करीब है.

सरकारी आंकड़ों पर नजर डालें तो केंद्र सरकार में 1 मार्च, 2018 तक 31.81 लाख भर्तियां हुईं, जबकि 38 लाख पद रिक्त थे. केंद्र में सबसे बड़े स्तर पर भर्ती करने वाला या फिर नौकरी देने वाले भारतीय रेल में लगभग 2.5 लाख नौकरियां थीं. 1.9 लाख रिक्तियां रक्षा क्षेत्र में भी थीं, जबकि अन्य क्षेत्रों में भी नौकरियां थीं.

इसे भी पढ़ें : #MNS के महाधिवेशन में पार्टी का नया झंडा लांच किया गया, बाल ठाकरे के हिंदुत्‍व की विरासत हथियाने की कोशिश में राज 

हमें सपोर्ट करें, ताकि हम करते रहें स्वतंत्र और जनपक्षधर पत्रकारिता...

Get real time updates directly on you device, subscribe now.

You might also like