न्यूज़ विंग
कल का इंतज़ार क्यों, आज की खबर अभी पढ़ें

बोकारो : सरकार विकास को लेकर गंभीर नहीं : झामुमो

265

Bokaro :  झारखंड मुक्ति मोर्चा द्वारा डुंगरीगोडा हॉट मैदान में क्षेत्र कि जन समस्याओं को लेकर सुनता पंचायत की मुखिया छवि देवी के अध्यक्षता में जनसभा किया गया. जनसभा को संबोधित करते हुए झामुमो जिला अध्यक्ष हीरा लाल मांझी ने कहा कि भाजपा सरकार में क्षेत्र की समस्या जस की तस है. आज भी आदिवासी बहुल क्षेत्रों में सुविधा नाम की कोई चीज नहीं है. बोकारो के विधायक बिरंची नारायण इन सब क्षेत्रों का सुध लेने तक नहीं आते हैं. ऐसे विधायक से जनता को किसी प्रकार की कोई उम्मीद नहीं है. सांसद का नाम तक लोग नहीं जानते हैं, भाजपा सरकार में विकास हवा-हवाई है.

इसे भी पढ़ेंःओवरलोड बसों पर नकेल कसने में प्रशासन नाकाम

hosp3

जिला प्रशासन क्षेत्र के लोगों के साथ सौतेला व्यवहार करती है

झारखंड मुक्ति मोर्चा बोकारो महानगर अध्यक्ष मंटू यादव ने जनसभा को संबोधित करते हुए कहा कि सुनता पंचायत सहित दक्षिणी क्षेत्र में समस्याओं का अंबार लगा हुआ है. जिला प्रशासन क्षेत्र के लोगों के साथ सौतेला व्यवहार करती है. बिजली,पानी,शिक्षा, स्वास्थ्य ऐसी समस्याओं से क्षेत्र के लोग काफी परेशान हैं. सड़कों का बुरा हाल है, आज भी क्षेत्र के लोग आधा पेट खाना खाकर सोते हैं.

उनके पास किसी प्रकार का कोई रोजगार नहीं. मंटू यादव ने कहा कि भाजपा के इस रघुवर सरकार में विकास की बात कहना बेइमानी होगी. सरकार का सारा सिस्टम फेल हो चुका है. अधिकारी चैन की नींद सो रहे हैं, जनता परेशान है. झारखंड मुक्ति मोर्चा बोकारो महानगर अध्यक्ष मंटू यादव ने रेलवे प्रशासन को चेतावनी देते हुए कहा कि राधा गांव डुंगरी गोडा इन क्षेत्र के लोगों के साथ में अन्याय करना बंद करें. झूठी मुकदमा में फंसाने का प्रयास बंद करें. अन्यथा रेलवे प्रशासन के विरोध में झारखंड मुक्ति मोर्चा जोरदार आंदोलन करेगी.

इसे भी पढ़ेंःअल्पसंख्यक के नाम पर लोगों को लड़ाने का काम कर रही है सरकार : आजमी

बहू-बेटी भी रघुवर सरकार में सुरक्षित नहीं

सुनता पंचायत की मुखिया छवि देवी ने जनसभा को संबोधित करते हुए कहा कि माननीय शिबू सोरेन का सपना आज भी अधूरा है. झारखंड प्रदेश का विकास के लिए हेमंत सोरेन को मुख्यमंत्री बनाना है. तभी जाकर प्रदेश का भला हो सकता है. हम लोग आदिवासी बहुल क्षेत्र में रहते हैं. हमारी बेटी, बहू भी सुरक्षित भाजपा सरकार में नहीं है.

जनसभा में मुख्य रूप से यशोदा देवी, चरण मांझी, लालमोहन मांझी, कामेश्वर मांझी, परमेश्वर मांझी, रूपचंद मांझी, उमेश चंद्रभान, बाबूराम मुर्मू, ज्योति लाल सोरेन, नंदलाल मांझी, समरा मरांडी, अमोली देवी, चरखी देवी, बबली देवी, श्रावणी देवी, पूर्णिमा देवी, हरी लाल मांझी, सुनील सिंह, सुशांत मुंडा इत्यादि मुख्य रूप से उपस्थित थे.

हमें सपोर्ट करें, ताकि हम करते रहें स्वतंत्र और जनपक्षधर पत्रकारिता...

You might also like
%d bloggers like this: