न्यूज़ विंग
कल का इंतज़ार क्यों, आज की खबर अभी पढ़ें

सरकार अपने वादों से मुकर रही है : मासस

66

Dhanbad : धनबाद के सांसद-विधायक किसी काम के नहीं हैं. क्षेत्र की समस्याएं सुलझाने में नाकामयाब रहे हैं. 2019 के चुनाव में जनता उनको सत्ता से हटा कर मुंहतोड़ जवाब देगी. इस बार लाल सलाम भाजपा की नीतियों को कामयाब नहीं होने देगा. सोमवार को जिला परिषद मैदान में मासस के नेताओं ने मंच से भाजपा और धनबाद के सांसद-विधायक पर जम कर हमला बोला. उन्होंने कहा कि मजदूरों और किसानों का पैसा ललित मोदी, नीरव मोदी, विजय माल्या जैसे धनसेठ लूटकर विदेश भाग कर मौज मस्ती कर रहे हैं. बैंकों का एनपीए करीब नौ लाख करोड़ है, जो पैसा डूबा हुआ है.

इसे भी पढ़ें – राज्यसभा सांसद महेश पोद्दार ने रघुवर सरकार को घेरा, ट्वीट कर कहा, सस्ती बिजली छोड़ ले रहे महंगी बिजली

कॉरपोरेट घरानों को सरकार पहुंचा रही है लाभ


हजारों करोड़ रुपये बड़े-बड़े कॉरपोरेट घरानों का बकाया है. देश की आर्थिक अवस्था जर्जर हो चुकी है. जीडीपी लगातार घट रहा है. लेकिन सरकार पब्लिक शेयर बेच कर निजीकरण कर कॉरपोरेट को फायदा पहुंचाने में लगी है.

इसे भी पढ़ें –वीडियो : धनबाद भाजपा कार्यालय में लगा मेयर की नो इंट्री का पोस्टर

हिंदू-मुस्लिम की बात करके ध्रुवीकरण कर रही है सरकार

हिंदू-मुसलिम के नाम पर जनता को बांटकर सरकार ध्रुवीकरण की राजनीति कर रही है. आरएसएस और भाजपा अपनी विचारधारा फैला रही है. भाजपा सभी को अपनी इच्छानुसार चलाना चाहती है. अगर अब भी जनता गोलबंद नहीं होती है तो देश के लिए अंधकारमय पल होगा. जितने भी सार्वजनिक और संवैधानिक संस्था हैं मोदी सरकार उसका दुरुपयोग कर रही है. सीबीआई, सीभीसी, चुनाव आयोग, सर्वोच्च न्यायालय और ईडी आदि का इस्तेमाल अपने फायदे के लिये कर रही है.

सभा के पूर्व गोल्फ ग्राउंड से जुलूस निकाला गया जो पैदल चलकर जिला परिषद मैदान पहुंचा. सभा की अध्यक्षता धनबाद जिला अध्यक्ष हरिप्रसाद पप्पू ने की. सभा के मुख्य वक्ता आनन्द महतो (केंद्रीय अध्यक्ष मासस) निरसा विधायक अरुप चटर्जी, हराहर महतो, विनोद सिंह (पूर्व विधायक माले) गोपी कांत बक्शी (सीपीएम) आभास मुंशी आदि थे.

हमें सपोर्ट करें, ताकि हम करते रहें स्वतंत्र और जनपक्षधर पत्रकारिता...

%d bloggers like this: