न्यूज़ विंग
कल का इंतज़ार क्यों, आज की खबर अभी पढ़ें

केंद्र की सरकार से संविधान को है खतरा, आरक्षण छीनने में लगी है सरकारः हेमंत सोरेन

राज्य को बर्बाद करने वाली पार्टी है आजसू: जगरनाथ, नावाडीह के नक्सल प्रभावित ऊपरघाट के गोनियाटो में की सभा

2,530

Bokaro/Bermo :  राज्य के पूर्व मुख्यमंत्री सह झामुमो के कार्यकारी अध्यक्ष हेमंत सोरेन ने गिरिडीह लोकसभा क्षेत्र के कसमार, गोनियाटो और जैनामोड़ में सभा को संबोधित करते हुए कहा कि केंद्र की सरकार से संविधान को खतरा है. यह सरकार देश के गरीब, अल्नसंख्यक, पिछड़े, दलित और आदिवासी को मिले उनके संवैधानिक अधिकार को खत्म करने की तैयारी में है. अब तो कहा जा रहा है कि अगर इस बार सत्ता में आ गये, तो फिर देश में शायद कभी चुनाव नहीं होगा. इस देश में न्याय का सबसे बड़ा मंदिर सुप्रीम कोर्ट है. वहां के जज भी जब निकल कर आम लोगों से सरकार के विरोध में बात करने लगे, तो इससे ही अंदाजा लगाया जा सकता है. सरकार किसी के साथ न्याय नहीं कर रहीं है. मोदी सरकार और उसमें शामिल लोगों का विश्वास देश के संविधान पर है नहीं. इसलिए यह चुनाव देश के अमीरों और गरीबों के बीच हो रहा है. अब देश और राज्य की जनता को तय करना है कि वे लूटने वाले अमीरों को देश के सदन में भेजे या गांव के गरीब किसानों को.

सीपी चौधरी नेता नहीं ठेकेदार 

उन्होंने गिरिडीह लोक सभा से एनडीए के प्रत्याशी राज्य के मंत्री चंद्रप्रकाश चौधरी पर टिप्पणी करते हुए कहा कि सीपी चैधरी नेता नहीं ठेकेदार हैं. उनका कोई संघर्ष का इतिहास नहीं रहा है. झारखंड अलग होने के बाद सबसे अधिक दिन मंत्री बने रहे और सिर्फ ठेकेदारी करते रहे. इसलिए वैसे लोगों को चुनाव में वोट देने से पहले सोचें. उनके समर्थन से ही स्थनीय लोगों को अधिकार छिन गया. हर तरह के कानून आजसू के सहयोग से भाजपा की सरकार राज्य में लागू कर सकी. आजसू के लोग लुटेरों का साथ देकर खुद भी राज्य को लूटने में लगे रहे हैं. ऐसे लोगों से सावधान रहने की जरूरत है.

राज्य को बर्बाद करने वाली पार्टी है आजसू: जगरनाथ

महागठबंधन के प्रत्याशी सह डुमरी विधायक जगरनाथ महतो ने कहा कि इस राज्य को आजसू पार्टी और सुदेश महतो ने सबसे अधिक नुकसान पहुंचाया है. ये लोग हमेशा दो मुंही बात करते रहे हैं. सदन के अंदर राज्य विरोधी कानून को समर्थन देते हैं, फिर उसका विरोध करने सड़क पर उतर जाते हैं. आजसू राज्य को 15 वर्षो से  लूट रही है. जिसमें यहां के प्रत्याशी का सबसे अधिक रोल रहा है. उन्होंने कहा कि जगरनाथ चुनाव जीतेगा, तो भी यहीं रहेगा और हारेगा तो भी यहीं रहेगा, लेकिन ये लोग यहां से जीतने और हारने के बाद भी बोरिया बिस्तर लेकर चले जायेंगे.

सभा को इन्होंने किया संबोधित

सभा को गोमिया की विधायक बबिता देवी, पूर्व विधायक योगेंद्र महतो, राधानाथ सोरेन, विष्णु चरण महतो, पूर्व प्रमुख पुष्पा देवी, कसमार प्रमुख विजय किशोर गौतम, सिकंदर कपरदार सहित कई लोगों ने संबोधित किया. संचालन झामुमो प्रखंड अध्यक्ष दिलीप हेम्ब्रम ने किया.

इसे भी पढ़ेंः दुकान, संस्थान, मॉल, फैक्ट्री, सिनेमा हॉल मतदान होने तक रहेंगे बंद, जिला प्रशासन का आदेश

हमें सपोर्ट करें, ताकि हम करते रहें स्वतंत्र और जनपक्षधर पत्रकारिता...

Get real time updates directly on you device, subscribe now.

You might also like