BusinessLead NewsNationalTOP SLIDER

Air India के लिए सरकार को मिली फाइनल पेमेंट, आज से Tata का हो गया महाराजा

New Delhi : टाटा समूह ने गुरुवार को सरकार से आधिकारिक तौर पर एयर इंडिया का अधिग्रहण कर लिया. टाटा संस के चेयरमैन एन चंद्रशेखरन ने अधिग्रहण की प्रक्रिया पूरी होने पर खुशी जताते हुए कहा कि टाटा समूह में एयर इंडिया को वापस पाकर हम काफी रोमांचित हैं. हम इसे विश्वस्तरीय एयरलाइन बनाने को प्रतिबद्ध हैं.
चंद्रशेखरन ने आधिकारिक हैंडओवर से पहले प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी से भी मुलाकात की.

निवेश और लोक संपत्ति प्रबंधन विभाग (DIPAM) के सचिव तुहीन कांता पांडे ने कहा, “एयर इंडिया का रणनीतिक विनिवेश लेनदेन आज सफलतापूर्वक संपन्न हुआ, जिसमें एयर इंडिया के 100 प्रतिशत शेयर प्रबंधन नियंत्रण के साथ मैसर्स टैलेस प्राइवेट लिमिटेड को हस्तांतरित किए गए. स्ट्रैटेजिक पार्टनर के नेतृत्व में एक नया बोर्ड एयर इंडिया का प्रभार लेता है.”

इसे भी पढ़ें:झारखंड : राज्य के 9 खनिज ब्लॉकों की होगी नीलामी, भूतत्व निदेशालय खान एवं भूतत्व विभाग झारखंड ने शुरू की प्रक्रिया

18,000 करोड़ रुपये में हुआ था सौदा

 

सरकार ने पिछले साल अक्टूबर में एयर इंडिया की बिक्री के लिए टाटा समूह के साथ 18,000 करोड़ रुपये में शेयर खरीद समझौता किया था. सौदे में एयर इंडिया एक्सप्रेस और उसकी इकाई एआईएसएटीएस की बिक्री भी शामिल है.

हस्तांतरण प्रक्रिया से पहले, 24 जनवरी को निवेश और सार्वजनिक संपत्ति प्रबंधन विभाग (दीपम) ने एयर इंडिया लिमिटेड और एआई एसेट्स होल्डिंग लिमिटेड (एआईएएचएल) द्वारा और उनके बीच एयरलाइन की संपत्तियों के हस्तांतरण के लिए किए गए समझौते की रूपरेखा को अधिसूचित किया.

एआईएएचएल की स्थापना 2019 में सरकार ने एयर इंडिया समूह की ऋण और गैर-प्रमुख संपत्ति रखने के लिए की थी.

इसे भी पढ़ें:NEWS WING की खबर लगी मुहर, स्नातक स्तरीय परीक्षा में खोरठा के संशोधित सिलेबस को JSSC ने हू-ब-हू किया जारी

ये हैं एयर इंडिया की चार अनुषंगी

एयर इंडिया एयर ट्रांसपोर्ट सर्विसेस लिमिटेड, एयरलाइन अलाइड सर्विसेस लिमिटेड, एयर इंडिया इंजीनियरिंग सर्विसेस लिमिटेड और होटल कॉर्पोरेशन ऑफ इंडिया लिमिटेड के साथ-साथ गैर प्रमुख संपत्तियों आदि को विशेष प्रयोजन इकाई में स्थानांतरित किया गया था.

इसे भी पढ़ें:आइसा और इंकलाबी नौजवान सभा ने 28 जनवरी को किया बिहार बंद का ऐलान

कई बैंकों ने टाटा समूह को दिया ऋण

बता दें कि भारतीय स्टेट बैंक (एसबीआई) के नेतृत्व में ऋणदाताओं का एक संघ घाटे में चल रही विमानन कंपनी एयर इंडिया के सुचारू परिचालन के लिए टाटा समूह को ऋण प्रदान करने पर सहमत हो गया है. सूत्रों ने बताया कि एसबीआई के नेतृत्व वाला कंसोर्टियम एयर इंडिया की आवश्यकताओं के अनुसार निश्चित अवधि और कार्यशील पूंजी ऋण दोनों देने पर सहमत हो गया है.

सूत्रों के अनुसार पंजाब नेशनल बैंक, बैंक ऑफ बड़ौदा और यूनियन बैंक ऑफ इंडिया सहित सभी बड़े ऋणदाता कंसोर्टियम का हिस्सा हैं.

इसे भी पढ़ें :पलामू : मुठभेड़ के बाद टीएसपीसी के तीन उग्रवादी गिरफ्तार, बंदूक सहित कई सामान बरामद

Advt

Related Articles

Back to top button