न्यूज़ विंग
कल का इंतज़ार क्यों, आज की खबर अभी पढ़ें

व्यवसायी संगोष्ठी में उठी मांग, किसानों की तर्ज पर व्यवसायियों का कर्ज माफ करें सरकार

782

Dhanbad: फेडरेशन ऑफ धनबाद जिला चेम्बर ऑफ कॉमर्स एंड इंडस्ट्रीज की एक दिवसीय व्यवसायिक संगोष्ठी का आयोजन धनबाद के टाउन हॉल में हुआ. जिसका उद्घाटन जेवीएनएल के एमडी राहुल पुरवार और ISM IIT के मैनेजमेंट गुरु प्रो.प्रमोद पाठक ने संयुक्त रूप से दीप प्रज्वलित कर किया. मौके पर धनबाद चेम्बर के अध्यक्ष राजेश गुप्ता ने कहा कि संगोष्ठी के आयोजन का उद्देश्य धनबाद जिले में व्यापार को बढ़ावा देना है.

साथ ही कहा कि सरकार नए उद्योगों को बढ़ावा देने के लिए नियमों में सरलता ला रही है, लेकिन निवेश तो व्यवसायियों को करना है. जब तक सरकार और व्यवसायी के बीच सामंजस्य स्थापित नहीं होगा, तब तक औधोगिक विकास और सूबे में निवेश की बात सोचना भी बेमानी है. उन्होंने जोर देते हुए कहा कि जिस तरह से सरकार किसानों की कर्ज माफी की दिशा में कदम उठा रही है, बड़े व्यवसायियों का कर्ज माफ कर रही है. उसी तरह छोटे व्यापारियों का कर्ज भी माफ् करें. क्योंकि NPA हो जाने की स्थिति में डिप्रेशन में आकर छोटे व्यवसायी भी आत्महत्या कर रहे हैं.

धनबाद में नहीं है अंतहीन कोयला

राजेश गुप्ता ने बताया कि धनबाद में जमीन के भीतर कोयले की मात्रा अंतहीन नहीं है. जो है, वो भी खदानों के भीतर लगी आग के वजह से खत्म होती जा रही है. बहुत जल्द कोयले से जुड़े व्यवसायी को भविष्य में दूसरे व्यवसाय से जुड़ना पड़ेगा.

व्यवसायियों की मांग से कराया अवगत

उन्होंने बिजली विभाग से आग्रह किया कि धनबाद को नेशनल ग्रिड से जोड़ा जाए. ऑन लाइन बिजली का कनेक्शन मिले. प्रीपेड मीटर की व्यवस्था हो. सड़क जाम से व्यवसायियों को मुक्ति मिले इसके लिए गया पुल का चौड़ीकरण जरूरी है. इसके अलावा नए ओवर ब्रिज का निर्माण हो, ताकि शहर की ट्रैफिक व्यवस्था को ठीक किया जा सके. बोकारो से आने वाली वाहनों को सीधे जीटी रोड तक पहुंचने में आसानी हो.

GST में मानवीय भूल की वजह से होने वाली गलतियों के लिए पेनाल्टी नहीं लगायी जाए. ट्रांसपोर्ट में रिवर्स टैक्स से राहत मिलनी चाहिए. गिरिडीह और धनबाद के बीच मे टुंडी रोड में नया इंडस्ट्रियल एरिया विकसित किया चाहिए, क्योंकि कांड्रा और बलियापुर में नए उद्योगों के लिए जगह नहीं मिल पा रही है. कांड्रा में टीओपी का निर्माण किया जाए.

बड़े शहरों के लिए सीधी रेल व फ़्लाइट सेवा भी जरूरी

संगोष्ठी में चेम्बर ने कहा कि धनबाद में एयरपोर्ट की सुविधा मिलना चाहिए. डीसी लाइन के बंद होने से राजधानी रांची से सम्पर्क लगभग टूट गया है. दिल्ली और बेंगलुरु के लिए सीधी ट्रेन सेवा बहाल होनी चाहिए. व्यापार और शहर की तरक्की के लिए बलियापुर में एयरपोर्ट बनना चाहिए. बड़े अस्पताल तो बन गए लेकिन एयरपोर्ट की सुविधा नही होने से बड़े विशेषज्ञ चिकित्सकों की सेवाएं नहीं मिल पाती है.

कार्यक्रम में झारखंड चैम्बर के अध्यक्ष प्रदीप मारू, JVNL एमडी राहुल पुरवार, ISM IIT के डॉ प्रमोद पाठक, दिलीप शर्मा जीएम इंस्ट्रीज डिपार्टमेंट, विजय कुमार दुबे, जीटा के राजीव शर्मा, झारखंड पेट्रोलियम डीलर एसोसिएशन के अध्यक्ष अशोक सिंह, प्रदूषण विभाग के आर एन चौधरी समेत जिले के सभी 56 चेम्बर के पदाधिकारी और सदस्य उपस्थित मौजूद रहें.

इसे भी पढ़ेंः 40 लाख से कम टर्नओवर पर GST नहीं, कंपोजीशन स्कीम की लिमिट 1.5 करोड़ रुपए

हमें सपोर्ट करें, ताकि हम करते रहें स्वतंत्र और जनपक्षधर पत्रकारिता...

Comments are closed.

%d bloggers like this: