Court NewsLead News

लालू प्रसाद के जेल मैन्युअल उल्लंघन मामले में सरकार ने समय मांगा, सुनवाई अब 8 जनवरी को

हाइकोर्ट ने पूछा था किसके निर्णय से लालू प्रसाद को पेइंग वार्ड से रिम्स के बंगले में शिफ्ट किया गया

Ranchi : लालू प्रसाद से जुड़े जेल मैन्युअल उल्लंघन मामले में शुक्रवार को हाइकोर्ट में सुनवाई हुई. इस मामले में शुक्रवार को सरकार को जवाब दाखिल करना था. जेल प्रशासन की ओर से पूर्व में जवाब दिया गया था. पर हाइकोर्ट इससे संतुष्ट नहीं हुआ.

Advt

हाइकोर्ट की ओर से कहा गया कि इस मामले में अदर स्टेक होल्डर(जिला प्रशासन) का भी जवाब होना चाहिए. इसके बाद सरकार ने जवाब दाखिल करने के लिए समय की मांग की है. इसके बाद हाइकोर्ट ने मामले में सुनवाई के लिए अगली तिथि 8 जनवरी तय की है.

इसे भी पढ़ें : Dhanbad : 5 घंटे बाद निकाला जा सका जमींदोज महिला का शव

अनावश्यक लोगों के मिलने का जिम्मेवार कौन है?

हाइकोर्ट ने पिछली सुनवाई में पूछा था कि किसके निर्णय से लालू प्रसाद को पेइंग वार्ड से रिम्स निदेशक के बंगले में और फिर से उन्हें पेइंग वार्ड में शिफ्ट किया गया. कोर्ट ने यह भी पूछा कि कैदी से अनावश्यक लोग मिलते हैं तो इसके पीछे जिम्मेदार कौन है?

कोर्ट ने यह भी पूछा है कि लालू प्रसाद को मिलनेवाले सेवादार की नियुक्ति कौन करता है? कौन-कौन लोग सेवादार हो सकते हैं ? इस पर भी राज्य सरकार को रिपोर्ट दाखिल करनी है.

बता दें कि लालू प्रसाद से मिलने वाले लोगों की सूची समय पर नहीं मिलने पर पिछली सुनवाई के दौरान कोर्ट ने आइजी जेल और बिरसा मुंडा केंद्रीय कारागार के अधीक्षक को शो काज भी जारी किया था.

इसे भी पढ़ें : केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह बंगाल में दिखायेंगे दम, ममता के गढ़ में करेंगे रैली और रोड शो

Advt

Related Articles

Back to top button