Ranchi

सरकार और प्रशासन मिलकर हमारी आदिवासी संस्कृति पर हमला करना चाहते हैं : अजय

Ranchi : शुक्रवार को पंडरा मौजा में राम प्रवेश सिंह नामक व्यक्ति वहां के स्थानीय लोहरा आदिवासी समाज के मसना की नापी कराने के लिए अमीन लेकर आया, जिसका पंडरा के लोहरा समुदाय लोगों ने विरोध किया. मौके पर स्थानीय निवासी विकास तिर्की ने कहा, “हमारे पुरखों के जमाने से इस मसना में हमारे लोगों को दफनाया जा रहा है, हरगड़ी पूजा की जा रही है, पर बाहर से आकर बसे हुए लोग हमारे धार्मिक स्थलों पर हस्तक्षेप करना चाहते हैं. ये लोग हमसे कहते हैं कि यहां शव नहीं दफनाने देंगे, जो हम आदिवासी लोग कभी बर्दाश्त नहीं करेंगे.”  मौके पर केंद्रीय सरना समिति के अध्यक्ष अजय तिर्की ने कहा, “सरकार और प्रशासन मिलकर हमारी आदिवासी संस्कृति-सभ्यता पर हमला करना चाहते हैं, जो हम कभी नहीं होने देंगे.”

Jharkhand Rai

आदिवासी विरोधी ताकत को अब बढ़ने नहीं देंगे

मौके पर छात्र नेता अजय टोप्पो ने कहा कि आदिवासी विरोधी ताकत को अब हम बढ़ने नही देंगे. पंडरा मौजा में जिन लोगों ने आदिवासियों की जमीन हड़पने का काम किया है, उनके खिलाफ जांच की जायेगी. मौके पर पंडरा मुखिया सुनील तिर्की, सरना प्रार्थना सभा के पंकज भगत, जय आदिवासी परिषद के मोती कच्छप, आदिवासी युवा मोर्चा के अलबिन लकड़ा, मानव अधिकार के कार्यकर्ता किशोर लोहरा, सामाजिक कार्यकर्ता अमरनाथ लकड़ा, बबलू लोहरा, शिबू लोहरा, बजरंग लोहरा, सोनू लोहरा सहित अन्य लोग उपस्थित थे.

इसे भी पढ़ें- जंगल के रक्षक आदिवासियों को SC का फैसला कर देगा लहूलुहान, आंदोलन की राह पर झारखंड के आदिवासी

इसे भी पढ़ें- नहीं पहुंचे सीएम, मंत्री सीपी सिंह ने किया 1504 करोड़ की योजनाओं का शिलान्‍यास और उद्घाटन

Samford

Advertisement

Related Articles

Back to top button
%d bloggers like this: