JharkhandRanchi

प्यार में मिला धोखा, तो बेचने लगे लिट्टी चोखा, जानें कहां का है किस्सा

Ranchi : प्यार मोहब्बत की फाइल में कई किस्से रोज दर्ज होते ही रहते हैं. किसी के खाते में कामयाबी की दास्तां आती है तो किसी का फसाना अधूरा भी रह जाता है. अब जो किला फतह करके कामयाबी का शिखर छूते हैं, उनकी बात ही जुदा है. पर जिनका सफर अधूरा रह जाता है, वे फिर भी लोगों में इश्क का जज्बा जगाते रहते हैं. बात हो रही है औरंगाबाद की, बिहार के एक बेवफा लिट्टी वाले की.

Sanjeevani

इसे भी पढ़ें : जमशेदपुर डी.बी.एम.एस कॉलेज ने मनाया गया सावन, प्रतियोगिता का भी आयोजन

MDLM

सोशल मीडिया में इन दिनों इस लिट्टी चोखा वाले की खूब चर्चा है. यह लिट्टी चोखा वाला खुद तो प्यार में धोखा खाने की बात कर रहा है पर बिहार के सबसे फेवरेट डिश लिट्टी चोखा से सबों की चाहत को और गहरा करने में बखूबी लगा है.

इसे भी पढ़ें : सुप्रीम कोर्ट का बड़ा फैसला, MP, MLA के खिलाफ केस हाईकोर्ट की मंजूरी के बगैर नहीं होगा वापस

कारोबार का नया फंडा

औरंगाबाद, बिहार के मदनपुर के पास स्थित एनएच-2 बस स्टैंड के पास बेवफा लिट्टी चोखा वाला ने अपना कारोबार शुरू किया है. ग्राहकों को आकर्षित करने को एक दिलचस्प साइन बोर्ड भी लगाया है. इसमें अपना नाम ही बेवफा लिट्टी वाला लिखा है. साथ ही इसमें कहा है- प्यार में भईल धोखा, बेचतानी लिट्टी चोखा. लिट्टी वाले ने यह भी बताया है कि उसकी तरफ से होम डिलिवरी सर्विस भी कस्टमरों को दी जाती है. हालांकि यह सेवा केवल मदनपुर, औरंगाबाद के ग्राहकों के लिये ही है.

स्थानीय ग्राहक मानते हैं कि ऐसे साइन बोर्ड कई दफा राह चलते लोगों को सहज ही दुकान पर आने को ललचा रहे हैं. लोगों को यहां कुछ अनूठा सुनने, जानने की ललक होती है कि आखिर बेवफा लिट्टी चोखा वाला का माजरा है क्या. यहां आने वाले ग्राहक लिट्टी चोखा वाले से उसकी सेवा लेने के साथ साथ नाम के पीछे का किस्सा जानने को भी बेताबी दिखा रहे हैं.

लिट्टी चोखा का हर कोई है मुरीद

बिहारी अस्मिता की पहचान में लिट्टी चोखा का भी अहम रोल रहा है. देश दुनिया में यह अपनी छाप लगातार छोड़ रहा है. पीएम नरेंद्र मोदी तक इसके मुरीद हो चुके हैं. पिछले साल (2020) फरवरी में दिल्ली में लगे हुनर हाट में उन्होंने इसका जायजा लिया था. इसके स्वाद की तारीफ करते हुए इसका पेमेंट खुद से करते हुए एक ट्वीट भी किया था. कहा था कि मजा आ गया, वाकई लिट्टी चोका लाजवाब व्यंजन है. यहां तक कि बिहार की राजनीति में भी लिट्टी चोखा की दावत का एक दिलचस्प रोल दिखता रहा है.

इसे भी पढ़ें :46 के हुए मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन, प्रधानमंत्री, रघुवर समेत अन्य ने दी बधाई

Related Articles

Back to top button