JharkhandRanchi

#GoodNews: आपदा प्रबंधन के तहत फसलों के नुकसान की भरपाई करेगी राज्य सरकार- मुख्यमंत्री

  • कोरोना संदर्भ में कोल्हान और पलामू प्रमंडल के सांसदों और विधायकों के साथ हुई वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग में सीएम ने की घोषणा
  • फंसे मजदूरों को वापस लाने के लिए सीएम ने जनप्रतिनिधियों से मांगा सुझाव
  • सीएम ने कहा- ‘मजदूरों के लिए बनायी गयी है कार्य योजना, मनरेगा पर नयी गाइडलाइन जल्द धरातल पर उतरेगी’

Ranchi : लॉकडाउन के दौरान हुई बेमौसम हुए बारिश से किसानों की फसलों को जो नुकसान हुआ है, उसकी भरपाई करने के लिए राज्य सरकार सकारात्मक कदम उठा रही है.

मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन ने कहा है कि फसलों के नुकसान को देख उसके आकलन का निर्देश दिया गया है. आपदा प्रबंधन के तहत फसलों के नुकसान की भरपाई राज्य सरकार करेगी.

जहां तक किसानों को लैम्पस के माध्यम से धान की राशि के भुगतान की बात है तो किसानों को भुगतान किया जा रहा है.

Sanjeevani

सीएम ने यह बात कोरोना वायरस संक्रमण के संदर्भ में कोल्हान एवं पलामू प्रमंडल के सांसदों और विधायकों के साथ गुरुवार को वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के माध्यम से बातचीत के क्रम में कही.

इस दौरान  मुख्यमंत्री के प्रधान सचिव राजीव अरुण एक्का, ओएसडी गोपालजी तिवारी, मुख्यमंत्री के प्रेस सलाहकार अभिषेक प्रसाद,  वरीय आप्त सचिव सुनील श्रीवास्तव उपस्थित थे.

इसे भी पढ़ें : #FightAgainstCorona : ऑरेंज जोनवाले जिलों में 21 दिनों तक कोई भी कोरोना पॉजिटिव नहीं मिला तो उसे ग्रीन जोन में डाला जायेगा

गृह मंत्रालय के निर्देश के बाद सरकार आयी एक्टिव मोड में, जनप्रतिनिधियों से मांगा सुझाव

लॉकडाउन में फंसे प्रवासी मजदूरों और छात्रों को वापस लाने के गृह मंत्रालय के निर्देश के बाद हेमंत सरकार भी एक्टिव मोड में आ गयी है.

सीएम हेमंत सोरेन ने कहा है कि विभिन्न राज्यों में फंसे छात्रों और प्रवासी श्रमिकों को सरकार वापस लाएगी. इसके लिए उन्होंने सभी जनप्रतिनिधियों से अपील कर कहा है कि उन्हें लाने के लिए वे सरकार को सुझाव दें.

उन्होंने कहा कि फंसे मजदूरों और छात्रों को वापल लाने के लिए सरकार ने इसके लिए नोडल पदाधिकारियों को नियुक्त किया है. फंसे लोगों को पूरी सतर्कता से सभी को वापस लाना है साथ ही कोरोना संक्रमण को भी हराना है.

श्रमिकों के लिए होगी रोजगार की व्यवस्था

मुख्यमंत्री ने कहा कि विभिन्न राज्यों से आ रहे श्रमिक भाइयों के लिए राज्य सरकार रोजगार की व्यवस्था का प्रयास करेगी. इसके लिए सरकार ने कार्य योजना तैयार कर रही है.

जल्द कार्य योजना धरातल पर उतरेगी. सरकार मनरेगा पर नया गाइडलाइन लाने की तैयारी में जुटी है, ताकि अधिक रोजगार का सृजन हो सके. श्रमिकों को उनके गांव में ही रोजगार मिलेगा.

टीकाकरण न रुके, सभी को अनाज मिले

मुख्यमंत्री ने जनप्रतिनिधियों से कहा कि लॉकडाउन में टीकाकरण कार्य नहीं रुके. बच्चों का टीकाकरण होता रहे. हमें बच्चों एवं बुजुर्गों पर विशेष ध्यान देना है.

सभी जनप्रतिनिधि अपने क्षेत्र के पंचायत स्तर के जनप्रतिनिधियों को जागरूक करें ताकि राशन वितरण के समय वे ग्रामीणों के साथ उपस्थित रह सभी को आनाज मिले यह सुनिश्चित कर सकें. सभी को आनाज देना सरकार का दायित्व है.

इसे भी पढ़ें : पलामू: कोरोना संक्रमितों की पहचान उजागर कर यूटयूब पर अपलोड करने वाला गिरफ्तार, पूछताछ जारी

क्या कहा कोल्हान प्रमंडल के सांसदों एवं विधायकों ने

  • जमशेदपुर पूर्वी विधायक सरयू राय ने मुख्यमंत्री को बताया कि जमशेदपुर प्रशासन बेहतर कार्य कर रहा है. बाहर फंसे छात्रों और श्रमिकों को लाने हेतु केंद्र राज्य सरकार को अपना सहयोग दे. सभी मिलकर कार्य करेंगे तो बेहतर परिणाम सामने आयेगा. यह समय आलोचना का नहीं.
  • जमशेदपुर सांसद विद्युत वरण महतो ने कहा कि राज्य सरकार कोरोना संक्रमण के विरुद्ध बेहतर लड़ाई लड़ रही है.
  • विधायक दशरथ गगराई ने कहा कि सरायकेला-खरसांवा में लॉक डाउन के दरम्यान सरकार द्वारा दी जा रही सुविधाओं का लाभ जरूरतमंदों को मिल रहा है.
  • चाईबासा विधायक दीपक बिरुवा ने कहा कि राज्य का अंदर जो लोग फंसे हैं उन्हें अपने गृह जिला लाने की व्यवस्था होनी चाहिये. इस पर मुख्यमंत्री ने कहा कि ऐसे लोगों को आवागमन की इजाजत मिलेगी. यह व्यवस्था सिर्फ राज्य के अंदर लागू होगी.

इस क्रम में चक्रधरपुर विधायक, पोटका विधायक, घाटशिला विधायक, मनोहरपुर विधायक ने अपनी भी बातों को मुख्यमंत्री के समक्ष रखा.

क्या कहा पलामू प्रमंडल के सांसदों एवं विधायकों ने

  • विश्रामपुर विधायक रामचन्द्र चंद्रवंशी ने मुख्यमंत्री ने आग्रह किया कि क्षेत्र के कई लोग राज्य से बाहर फंसे हैं. उन्हें वापस लाना बेहद जरूरी है.
  • गढ़वा विधायक सह पेयजल मंत्री मिथिलेश ठाकुर ने कहा कि राज्य में कहीं भी अगर खराब चापानल की शिकायत मिलती है तो उसे तीन दिन में ठीक करने का निदेश दिया गया है. ऐसा नहीं होने पर संबंधित अभियंता जिम्मेदार होंगे.
  • लातेहार विधायक बैजनाथ राम ने कहा कि लातेहार में अच्छी स्थिति है. टीम भावना से कार्य हो रहा है.

इसे भी पढ़ें : क्या सच में अमेरिका ने #Remdesivir केप्सुल से कोरोना वायरस का इलाज खोज लिया, जानिये पूरी कहानी

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Related Articles

Back to top button