Corona_UpdatesLead NewsNationalSci & TechTEENAGERSTOP SLIDER

GOOD NEWS :  Zydus Cadila कीमत घटाने को तैयार, जानें कितने में मिलेगी किशोरों के लिए सुई मुक्त ZyCov-D वैक्सीन की डोज

12 साल और उससे ज्‍यादा उम्र वर्ग के लोगों के लिए ये पहली स्‍वदेशी कोविड रोधी वैक्‍सीन

Ad
advt

New Delhi :  केंद्र सरकार के साथ लगातार चल रही बातचीत के बाद जायडस कैडिला कंपनी अपनी कोविड-19 रोधी वैक्‍सीन जायकोव-डी (ZyCov-D) की कीमतें घटाने पर तैयार हो गई है.समाचार एजेंसी पीटीआइ की रिपोर्ट के मुताबिक जायडस कैडिला अपनी वैक्‍सीन की कीमत घटाकर 265 रुपये प्रति डोज करने पर सहमत हो गई है. हालांकि अभी अंतिम समझौता होना बाकी है.

सूत्रों ने रविवार को बताया कि सुई मुक्त जायकोव-डी (ZyCov-D) वैक्‍सीन की प्रत्येक डोज देने के लिए 93 रुपये की लागत वाले एक डिस्पोजेबल दर्द रहित जेट एप्लीकेटर की जरूरत होगी. इसके साथ जायकोव-डी (ZyCov-D) वैक्‍सीन की कीमत 358 रुपये प्रति खुराक होगी.

advt

इसे भी पढ़ें :मॉर्निंग वॉकरों के लिये मोरहाबादी में लग रहा है कैंप,ले सकते हैं टीका

रंग लाई केंद्र सरकार के साथ बातचीत

रिपोर्ट के मुताबिक अहमदाबाद स्थित दवा कंपनी जायडस कैडिला (Zydus Cadila) ने पहले अपनी तीन खुराक वाली दवा के लिए 1,900 रुपए की कीमत का प्रस्ताव दिया था. सूत्रों की मानें तो कंपनी के साथ सरकार की लगातार चल रही बातचीत रंग लाई है.

advt

इसे भी पढ़ें :झारखंड शिक्षक पात्रता परीक्षा आयोजित करने को लेकर डीएलएड और बीएड पास अभ्यर्थियों ने हाई कोर्ट में दायर की याचिका

358 रुपये पड़ेगी एक डोज की कीमत

नतीजतन जायडस कैडिला (Zydus Cadila) ने अपनी कोविड रोधी वैक्‍सीन जायकोव-डी (ZyCov-D) की प्रत्येक खुराक की कीमत 358 रुपये निर्धारित की है. इस कीमत में एक डिस्पोजेबल जेट एप्लीकेटर की कीमत (93 रुपये) भी शामिल है. इस डिस्पोजेबल जेट एप्लीकेटर के जरिए ही यह सूई रहि‍त वैक्‍सीन दी जाएगी. हालांकि वैक्‍सीन की कीमतों को लेकर आधिकारिक तौर पर अंतिम निर्णय आना बाकी है.

इसे भी पढ़ें :जानें ऐसा क्या हुआ जिसकी वजह से टल गई Alia Bhatt और  Ranbir Kapoor की शादी?

दुनिया का पहला डीएनए बेस्‍ड टीका

माना जा रहा है कि जायकोव-डी (ZyCov-D) वैक्‍सीन की कीमत पर अंतिम फैसला इस हफ्ते हो सकता है. सूत्रों ने बताया कि इस वैक्‍सीन की तीन खुराकों को 28 दिनों के अंतराल पर दिया जाएगा. यह वैक्‍सीन पूरी तरह स्‍वदेशी है. यह दुनिया का पहला डीएनए बेस्‍ड सुई मुक्त कोविड-19 रोधी वैक्‍सीन है.

इसे भी पढ़ें :धान काटते समय हुआ था विवाद, पति ने पत्नी की हंसुआ से गला रेत कर दी हत्या

किशोरों के टीकाकरण का रास्‍ता खुला

दवा नियामक ने 20 अगस्त को जायडस कैडिला (Zydus Cadila) की वैक्‍सीन ZyCov-D के देश में आपात इस्‍तेमाल को मंजूरी दी थी. देश में 12 साल और उससे ज्‍यादा उम्र वर्ग के लोगों को लगाई जाने वाली यह पहली स्‍वदेशी कोविड रोधी वैक्‍सीन है. एनटीएजीआई 12 साल से ज्‍यादा उम्र के किशोरों के टीकाकरण अभियान में इस वैक्‍सीन को शामिल करने के संबंध में प्रोटोकाल और रूपरेखा तैयार करेगी.

अभी तक दो वैक्‍सीन से हो रहा टीकाकरण

टीकाकरण पर राष्ट्रीय तकनीकी सलाहकार समूह से हरी झंडी मिलते ही इसे कोरोना वायरस के खिलाफ टीकाकरण अभियान में शामिल कर लिया जाएगा. अभी सरकार कोविशील्ड 205 रुपये प्रति डोज और कोवैक्सीन 215 रुपये प्रति डोज के हिसाब से खरीद रही है.

28 दिन के अंतराल पर लगाई जाएगी जायकोव-डी

केंद्र सरकार कंपनियों से वैक्सीन खरीद कर राज्यों और केंद्र शासित प्रदेशों को नि:शुल्क उपलब्ध कराती है. अब तक 112 करोड़ डोज उपलब्ध करा भी चुकी है. सरकार का कहना है कि वह पूरे देश में कोविड-19 टीकाकरण की गति को तेज करने और इसके दायरे का विस्तार करने के लिए प्रतिबद्ध है.

दुनिया की पहली डीएनए आधारित वैक्सीन है पूरी तरह से देश में विकसित जायकोव-डी दुनिया की पहली डीएनए आधारित वैक्सीन है. यह 28 दिन के अंतराल पर लगाई जाएगी.

इसे भी पढ़ें :झारखंड के 24 जिलों के थानों में कबाड़ हो गए 25 हज़ार से ज्यादा वाहन, आज तक नहीं हुई नीलामी

advt
Adv

Related Articles

Back to top button
%d bloggers like this: