Corona_UpdatesNationalTOP SLIDER

Good News : 12 वर्ष से अधिक उम्र के बच्चों का अगले महीने से शुरू होगा टीकाकरण

New Delhi : भारत में बच्चों को भी जल्द वैक्सीन दी जाएगी. भारत में अब करोड़ों-करोड़ों वैक्सीन एक ही दिन में दी जाने लगी है, जिससे वैक्सीन की कमी को लेकर अतीत में उठ रही आवाजें भी बंद हुईं हैं. यह देश में अधिक वैक्सीन के प्रोडक्शन का भी प्रमाण है.

बच्चों को वैक्सीन के मामले पर नजर रखे हुए दो सूत्रों ने रायटर को बताया, ’12 वर्ष या उससे अधिक आयु के सभी भारतीय बच्चे अगले महीने से COVID-19 टीकाकरण के लिए पात्र हो जाएंगे.’ बताया गया कि दवा निर्माता कैडिला हेल्थकेयर के ZyCoV-D को लान्च किए जाने के बाद बच्चों को जल्द टीका लगाने में सफलता मिलती नजर आ रही है.

इसे भी पढ़ें:वैक्सीनेशन की नई गाइडलाइंस जारी: दिव्यांगों और बुजुर्गों को घर के पास ही लगेगा टीका

advt

ZyCoV-D को मिल चुकी है मंजूरी

दुनिया की पहली डीएनए-आधारित COVID-19 वैक्सीन, ZyCoV-D ने पिछले महीने भारतीय नियामकों से आपात इस्तेमाल की मंजूरी प्राप्त की. बताया गया कि अक्टूबर से, कंपनी, जिसे जाइडस कैडिला के नाम से जाना जाता है, एक महीने में 10 मिलियन खुराक का उत्पादन करेगी.

वहीं, स्वास्थ्य मंत्रालय ने वैक्सीन दिए जाने के अनुरोध पर फिलहाल कोई जवाब नहीं दिया है. हालांकि, सूत्रों ने नाम न छापने की शर्त पर यह जानकारी दी. बता दें कि यह भारत में बच्चों के लिए स्वीकृत एकमात्र वैक्सीन है.

adv

इसे भी पढ़ें:पलामू : 16 हजार की उंचाई पर चढ़कर एशिया रिकार्ड बनाने वाले तरहसी के मंजीत बनाना चाहते हैं वर्ल्ड रिकार्ड, आर्थिक तंगी बनी बाधा

दुनिया की पहली plasmid DNA कोरोना वैक्सीन

सूत्रों ने पहले भी बताया था कि वैक्सीन ZyCoV-D के इस साल के अक्टूबर की शुरुआत में आने की संभावना है. बता दें कि भारत के ड्रग रेगुलेटर ने 20 अगस्त को ही जायडस कैडिला की इस वैक्सीन के इमरजेंसी इस्तेमाल की मंजूरी दे दी थी. ZyCoV-D दुनिया की पहली plasmid DNA कोरोना वैक्सीन है.

तीन डोज की इस वैक्सीन को लगाने के लिए इंजेक्शन की जरूरत नहीं होगी. पहली खुराक के 28वें दिन दूसरी और फिर 56 दिन बाद तीसरी खुराक लेनी होगी.

इसे भी पढ़ें: त्योहारों को लेकर जारी गाइडलाइन का हो सख्ती से पालन, अभी थोड़ी सी लापरवाही से स्थिति हो सकती है विस्फोटकः हाइकोर्ट

Related Articles

Back to top button
%d bloggers like this: