JharkhandRanchi

Good News: राज्य में 15 जनवरी के बाद से खुल सकते हैं स्किल ट्रेनिंग सेंटर

  • सेंटरों को फिर से खोले जाने के लिए स्किल डेवेलपमेंट पार्टनर एसोसिएशन ने लगायी सरकार से गुहार

Ranchi: राज्य में स्किल डेवलपमेंट एक्टिविटी कोरोना काल के शुरुआत से ही बंद पड़ी है. इसे लेकर झारखंड स्किल डेवेलपमेंट पार्टनर निराश हैं. वे लगातार सरकार से स्किल ट्रेनिंग सेंटर को री-ओपन कराने की गुहार लगा रहे हैं.

Advt

झारखंड स्किल डेवेलपमेंट पार्टनर एसोसिशन ने इसी क्रम में बुधवार को स्वास्थ्य, चिकित्सा, शिक्षा एवं परिवार कल्याण सह आपदा विभाग के मंत्री बन्ना गुप्ता से मुलाकात करके ज्ञापन सौंपा. स्किल ट्रेनिंग सेंटरों को फिर से खोले जाने में सहयोग मांगा.

मंत्री ने संज्ञान लेते हुए भरोसा दिलाया कि 15 जनवरी, 2021 को उनके मामले पर निर्णय लिया जाएगा. इसके बाद कौशल प्रशिक्षण केन्द्र खोले जा सकेंगे.

इसे भी पढ़ें- रांची पुलिस ने कर ली है ‘तीसरी आंख’ की मरम्मत, अब नजरों से बचना मुश्किल

300 से भी अधिक हैं ट्रेनिंग सेंटर

झारखंड स्किल डेवेलपमेंट पार्टनर एसोसिएशन की प्रमुख अदिति सिन्हा के अनुसार राज्य में 300 से भी अधिक स्किल डेवलपमेंट सेंटर हैं. केवल राजधानी रांची में लगभग 40 सेंटर्स मौजूद हैं. राज्यभर में सभी सेंटर कोरोना महामारी की वजह से बंद पड़े हैं.

राज्य में सीधे तौर पर स्किल सेंटर के जरिये लगभग 5000 कर्मी गुजारा कर रहे हैं. सेंटरों के जरिये करीब 20,000 ट्रेनियों की ट्रेनिंग और उनके लिये रोजगार का प्रोग्राम अधर में है. सेंटरों के लिये अभी भी लॉकडाउन की स्थिति बनी ही हुई है.

मार्च से जारी समस्या से अब भी राहत नहीं दी गयी है. इतने दिनों से सेंटरों के बंद रहने की वजह से सेंटर से जुड़े कर्मचारियों की रोजी रोटी भी छीन गयी है. राशन पानी तक के लिए दिक्कत हो रही है.

इसे भी पढ़ें- जयपाल सिंह मुंडा की प्रतिमा देखरेख के अभाव में छतिग्रस्त, सिर्फ तीन दिन बाद ही हम मनायेंगे उनकी जयंती

दूसरे राज्यों में कौशल विकास कार्यक्रम शुरू

देश के लगभग सभी राज्यों में कौशल विकास का कार्यक्रम चालू कर दिया गया है. झारखंड स्किल डेवेलपमेंट पार्टनर एसोसिएशन ने बन्ना गुप्ता से आग्रह करते हुए कहा कि झारखंड में भी सरकारी गाइडलाइन के अनुरूप सेंटर को चालू किया जा सकता है. इससे राज्य में रोज़गारपरक कौशल विकास कार्यक्रम भी जारी हो सकेंगे. सेंटर से जुड़े कर्मियों को भी लाभ मिलेगा.

इसे भी पढ़ें- गिरिडीह : नाबालिग से दुष्कर्म करने का आरोपी भेजा गया जेल

Advt

Related Articles

Back to top button