JharkhandLead NewsNEWSRanchi

अच्छी खबर: 197 करोड़ में अरगोड़ा चौक से कटहल मोड़ तक सड़क होगी चौड़ी,166 करोड़ सिर्फ जमीन अधिग्रहण के लिए

5.30 किमी लंबी यह सड़क सात से 14 मीटर तक होगी चौड़ी, टूटेंगे मकान-दुकान

Nikhil kumar

Ranchi: राजधानी के सबसे व्यस्ततम सड़कों में से एक अरगोड़ा चौक से कटहल मोड़ तक की सड़क का नये सिरे से चौड़ीकरण-मजबूतीकरण किया जाएगा. पथ निर्माण विभाग ने इसके निर्माण का प्रस्ताव तैयार कर लिया है. चौड़ीकरण योजना में 197.28 करोड़ रुपये की लागत आएगी. चीफ इंजीनियर सीडीओ स्तर से इसकी तकनीकी स्वीकृति भी मिल गयी है. जल्द ही इसकी स्वीकृति मंत्रिपरिषद से ली जायेगी. मंजूरी मिलते ही सारी प्रक्रिया पूरी कर जमीन अधिग्रहण का कार्य किया जायेगा, इसके बाद निर्माण शुरू होगा.

इंजीनियरों ने बताया कि अरगोड़ा चौक से कटहल मोड़ तक की 5.30 किमी लंबी इस सड़क को सात से 14 मीटर तक चौड़ा किया जाएगा. वर्तमान में यह सड़क 5.5 मीटर से सात मीटर तक चौड़ी है. ऐसे में सड़क चौड़ीकरण में बड़े पैमाने पर भू-अर्जन की जरूरत होगी. घर-मकान भी टूटेंगे. विभाग ने भू-अर्जन के कार्य में करीब 166.13 करोड़ रुपये खर्च करने का प्रस्ताव तैयार किया है,जिसे रैयतों को उनकी जमीन के बदले भुगतान किया जाएगा. वहीं यूटिलिटि शिफ्टिंग कार्य में 2.89 करोड़ रूपये खर्च किए जायेंगे. इसके अतिरिक्त सिविल वर्क में राशि खर्च की जायेगी. बता दें कि इस सड़क  की पहले भी चौड़ीकरण की योजना थी, लेकिन भू-अर्जन नहीं होने के कारण यह सड़क पूरी तरह चौड़ी नहीं हो सकी. अब नये सिरे से प्रस्ताव बनाया गया है.

Catalyst IAS
SIP abacus

रांची रिंग रोड व नेशनल हाइवे 23 को जोड़ती है यह सड़क,हजारों वाहन रोज गुजरते हैं

Sanjeevani
MDLM

प्रस्तावित,पथ निर्माण विभाग के स्वामित्व वाला पथ है, जो मेजर डिस्ट्रिक्ट रोड-018 है. यह सड़क राजधानी रांची का शहरी एवं अति महत्वपूर्ण पथ है जो रिंग रोड एवं नेशनल हाइवे 23 को कनेक्ट करता है. इसके अलावा अरगोड़ा चौक से एक तरफ अशोक नगर, एचईसी व हरमू बाइपास की कनेक्ट करता है. ऐसे में इस सड़क पर हजारों वाहन रोज गुजरते हैं, लेकिन अरगोड़ा चौक से कटहल मोड़ जाने की ओर कई जगह सड़क की चौड़ाई काफी कम है. ऐसे में कई बार जाम की समस्या बनती है. पूरी लंबाई में अभी यह सड़क इंटरमीडिएट और डबल लेन है,जिसे अब अधिक चौड़ा किया जायेगा. रोड बनने से यातायात व्यवस्था में काफी सुधार की उम्मीद है.

Related Articles

Back to top button