Education & CareerJharkhandRanchi

GOOD NEWS : आकांक्षा’ कोचिंग में अब 100 नहीं बल्कि 125 बच्चे पढ़ेंगे, क्लास 1 नवंबर से

इंजीनियरिंग और मेडिकल परीक्षा की तैयारी करायी जाती है विद्यार्थियों को

Ranchi : माध्यमिक शिक्षा निदेशालय की ओर से संचालित आकांक्षा कोचिंग में अब केवल 100 नहीं बल्कि 125 बच्चे इंजीनियरिंग और मेडिकल परीक्षा की तैयारी करेंगे. निदेशालय ने इसकी स्वीकृति दे दी है. इस बदलाव के तहत नये सत्र के क्लासेस एक नवंबर से होंगे.

एडमिशन के लिए होती है प्रवेश परीक्षा

माध्यमिक शिक्षा निदेशक हर्ष मंगला ने बताया है नये सत्र से 75 इंजीनीयरिंग और 50 बच्चे मेडिकल परीक्षा की तैयारी के लिए नामांकित किये जायेंगे. बताते चलें कि आकांक्षा कोचिंग में एडमिशन के लिए प्रवेश परीक्षा ली जाती है. अब तक इस कोचिंग में 60 बच्चे इंजीनियरिंग और 40 बच्चे मेडिकल की तैयारी करते थे.

advt

इसे भी पढ़ें : भाजपा ने सरकार से की पंचायत चुनाव से पहले जाति प्रमाणपत्र बनाने की प्रक्रिया शुरू करने की मांग

स्कूलों के रखरखाव पर खर्च होंगे 37.5 करोड़ रुपये

माध्यमिक और +2 स्कूलों में मेंटनेंस पर खर्च करने के लिए 37.5 करोड़ रुपये खर्च किये जायेंगे. यह राशि शिक्षा परियोजना को दे दी गयी है. स्कूलों के मरम्मत और रखरखाव के लिए प्रत्येक डीईओ को 10-10 लाख रुपये का आवंटन किया जाएगा.

इसे भी पढ़ें : पटना में देर रात खटखटाने पर न खोलें घर का दरवाजा, डकैत भी हो सकते हैं

गैर सरकारी सहायता प्राप्त प्राथमिक स्कूलों के लिए 17.55 करोड़ रुपये जारी

प्राथमिक शिक्षा निदेशालय ने राज्य के गैर सरकारी सहायता प्राप्त (अल्पसंख्यक सहित) प्राथमिक विद्यालयों के लिए सहायता अनुदान के रूप में 17.55 करोड़ रुपये जारी किये हैं. यह अनुदान राशि 15 जिलों के स्कूलों में कार्यरत शिक्षकों के वेतन के लिए जारी किया गया है. इनमें बोकारो, चतरा, देवघर, धनबाद, गढ़वा, गिरिडीह, गोड्डा,, जामताड़ा, लातेहार, लोहरदगा, पाकुड़, पलामू, रांची साहिबगंज तथा सिमडेगा शामिल हैं. इस राशि से उन शिक्षकों का ही वेतन भुगतान होगा, जिनकी सेवा संपुष्टि हो चुकी है.

इसे भी पढ़ें : गम्हरिया मोड़ पर टाटा मैजिक पलटने से रामकृष्णा फोर्जिंग के 15 मजदूर घायल

Related Articles

Back to top button
%d bloggers like this: