न्यूज़ विंग
कल का इंतज़ार क्यों, आज की खबर अभी पढ़ें

भारतीय आईटी पेशेवरों के लिए खुशखबरी, अमेरिकी संसद ने  Green Card पर लगी सात प्रतिशत की सीमा  हटायी

जान लें कि ग्रीन कार्ड (Green Card)  किसी व्यक्ति को अमेरिका में स्थायी रूप से रहने और काम करने की अनुमति देता है.

25

Washington : भारत के हजारों आईटी पेशेवरों के लिए खुशखबरी है. अमेरिकी सांसदों ने ग्रीन कार्ड जारी करने पर मौजूदा सात प्रतिशत की सीमा को हटाने के उद्देश्य से बुधवार को एक विधेयक (एचआर 1044 )पारित किया. इस विधेयक से भारत के हजारों उच्च कुशल आईटी पेशेवरों को लाभ मिलेगा. जान लें कि ग्रीन कार्ड (Green Card)  किसी व्यक्ति को अमेरिका में स्थायी रूप से रहने और काम करने की अनुमति देता है. अमेरिका की प्रतिनिधि सभा द्वारा पारित यह विधेयक भारत जैसे देशों के उन प्रतिभाशाली पेशेवरों के लिए दुखदायी इंतजार को कम करेगा जो अमेरिका में स्थायी रूप से काम करने और रहने की अनुमति चाहते हैं.

कानून की शक्ल लेने के लिए अमेरिका के राष्ट्रपति के हस्ताक्षर की जरुरत

Related Posts

#Aramco के संयंत्रों पर हमले से तेल उत्पादन में भारी कमी, अंतरराष्ट्रीय बाजार में तेल के दाम बढ़ने की आशंका

अंतरराष्ट्रीय मीडिया की रिपोर्ट्स के अनुसार इन हमलों के बाद वहां तेल उत्पादन में हर दिन 50 लाख बैरल की कमी आयी है. यह सऊदी अरब के कुल तेल उत्पादन का आधा हिस्सा है.

फेयरनेस ऑफ हाई स्किल्ड इमिग्रेंट्स एक्ट, 2019 या एचआर 1044 नाम का यह विधेयक 435 सदस्यीय सदन में 65 के मुकाबले 365 मतों से पारित हो गया. मौजूदा व्यवस्था के अनुसार एक साल में अमेरिका द्वारा परिवार आधारित प्रवासी वीजा दिये जाने की संख्या को सीमित कर दिया गया. अभी तक की व्यवस्था के अनुसार किसी देश को ऐसे वीजा केवल सात फीसदी तक दिये जा सकते हैं. नये विधेयक में यह सीमा  सात प्रतिशत से बढ़ाकर 15 प्रतिशत कर  दी गयी है. .

इसी क्रम में  विधेयक में हर देश को रोजगार आधारित प्रवासी वीजा केवल सात प्रतिशत दिये जाने की सीमा भी खत्म कर  दी  गयी है. इस विधेयक को कानून की शक्ल लेने के लिए अमेरिका के राष्ट्रपति के हस्ताक्षर की जरुरत है लेकिन इससे पहले इसे सीनेट की मंजूरी की आवश्यकता होगी, जहां रिपब्लिकन सांसदों की अच्छीखासी संख्या है

इसे भी पढ़ेंः कर्नाटक व गोवा के बाद अब झारखंड में “शुद्धिकरण” की बारी !

हमें सपोर्ट करें, ताकि हम करते रहें स्वतंत्र और जनपक्षधर पत्रकारिता...

Get real time updates directly on you device, subscribe now.

You might also like
क्या आपको लगता है कि हम स्वतंत्र और निष्पक्ष पत्रकारिता कर रहे हैं. अगर हां, तो इसे बचाने के लिए हमें आर्थिक मदद करें. आप हर दिन 10 रूपये से लेकर अधिकतम मासिक 5000 रूपये तक की मदद कर सकते है.
मदद करने के लिए यहां क्लिक करें. –
%d bloggers like this: