JharkhandLead NewsRanchiTOP SLIDER

अच्छी खबरः झारखंड में अब ऑफलाइन भी बन सकेगा जाति प्रमाण पत्र

Special correspondent

Ranchi: झारखंड में जाति प्रमाण पत्र अब ऑफलाइन भी बन सकेगा. कार्मिक विभाग ने इसकी सहमति प्रदान कर दी है. कार्मिक सचिव वंदना दादेल ने इस आशय का निर्देश सभी जिलों को जारी कर दिया है. निर्देश में स्पष्ट कहा गया है कि जाति प्रमाण पत्र ऑनलाइन के साथ ऑफलाइन निर्गत करने के निर्णय से अवगत कराते हुए सभी विभागों,प्रमंडलीय आयुक्त,उपायुक्त,जेपीएससी ,राज्य कर्मचारी चयन आयोग व परीक्षा नियंत्रक झारखंड संयुक्त प्रवेश प्रतियोगिता परीक्षा पर्षद रांची को पत्र लिखा है.

बता दें कि झारखंड मे 25 फरवरी 2019 से राज्य में जाति प्रमाण पत्र ऑनलाइन जारी करने का प्रावधान किया गया है. लेकिन यह देखा जा रहा है कि ऑनलाइन प्रमाण पत्र जारी करने में कई समस्या,कठिनाई आ रही है. दूर-दराज क्षेत्रों में पावर कट, लिंक फेल आदि की लगातार समस्या आ रही है. आवेदकों को एक ही काम के लिए कई बार प्रज्ञा केंद्र या कार्यालय का चक्कर लगाना पड़ता है. आवेदन जमा करने के साथ-साथ निर्गत करने में भी कई बार दिक्कत होती है. जिसके फलस्वरूप जाति प्रमाण पत्र ऑनलाइन के साथ-साथ ऑफलाइन निर्गत करने का मामला भारत सरकार के समक्ष विचाराधीन था.

ऐसे में सम्यक विचार करने के बाद राज्य सरकार ने निर्धारित प्रावधान के साथ-साथ ऑफलाइन आवेदन समर्पित करने तथा ऑफलाइन जाति प्रमाण पत्र भी निर्गत करने के प्रावधान को जोड़ा गया है. विभाग ने इसके लिए 2019 के नियमों को इस हद तक संशोधित किया है. कार्मिक सचिव ने कहा है कि झारखंड राज्य के अनुसूचित जाति,अनुसूचित जनजाति,अत्यंत पिछड़ा वर्ग अनुसूची-1,पिछड़ा वर्ग अनुसूची-2,अन्य पिछड़ा वर्ग के सदस्य को जाति प्रमाण पत्र निर्गत करने के लिए झारखंड सरकार,भारत सरकार दवारा इससे संबंधित मार्ग-दर्शन की परिचारित करते हुए उसमें अंर्तनिहित प्रक्रिया एवं शर्तो का अनुपालन करने के लिए समय-समय पर निर्देश दिया जाता रहा है. साथ ही इन प्रमाण पत्रों की निर्गत करने के लिए प्रमाण पत्र का प्रपत्र भी दिया जाता रहा है. इसी अनुरूप ये संशोधन फिर से किए गये हैं.

Related Articles

Back to top button