DeogharJharkhandRanchi

बाबानगरी का शुभमंगल, प्रधानमंत्री देंगे 16,835 करोड़ की योजनाओं की सौगात

Poltical Editor

Ranchi: मंगलवार का दिन बाबानगरी के लिए शुभमंगल है. काशी विश्वनाथ कोरिडोर के विकास के बाद अब प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी मंगलवार को देवघर स्थित द्वादश ज्योतिर्लिंग बैद्यनाथधाम के विकास की लंबी लकीर खींचेंगे. नरेन्द्र मोदी पहले प्रधानमंत्री हैं जो बाबा बैजनाथ की पूजा करेंगे. देवघर में अंतर्राष्ट्रीय हवाई अड्डा के साथ-साथ एम्स की सौगात देकर ना सिर्फ झारखंड के विकास का खाका खींचेंगे बल्कि इन दोनों ही योजनाओं से बिहार और बंगाल के लोगों को भी लाभ मिलेगा.

प्रधानमंत्री मंगलवार को देवघर से कई योजनाओं का शिलान्यास और उद्घाटन करेंगे जिसकी कुल अनुमानित लागत लगभग 16,835 करोड़ है. जिसमें देवघर आसपास और राजधानी रांची से जुड़ी योजनाएं शामिल हैं. इन योजनाओं के शिलान्यास और उद्घाटन का सिलसिला पीएम मोदी के मंगलवार की दोपहर देवघर पहुंचते ही शुरू होगा.

 

झारखंड समेत बिहार और बंगाल को होगा फ़ायदा

दो साल के कोरोना काल के बाद आयोजित हो रहे श्रावणी मेला के पहले पीएम के इस तोहफ़े का इम्पैक्ट न केवल संताल परगना इलाके में पड़ेगा बल्कि बिहार और झारखंड समेत अन्य राज्य भी इससे प्रभावित होंगे. पीएम 6,565 करोड़ की योजनाओं का शिलान्यास करेंगे. उनमें सड़क परिवहन एवं राजमार्ग मंत्रालय के 8 प्रोजेक्ट, रेलवे के तीन, पेट्रोलियम एंड नेचुरल गैस का एक प्रोजेक्ट शामिल हैं. साथ ही पीएम 10,270 करोड़ की योजनाओं का उद्घाटन भी करेंगे. उनमें पर्यटन, स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण मंत्रालय की एक योजना, रेलवे की दो, 401.03 करोड का देवघर एयरपोर्ट, 39 करोड़ का बाबा बैजनाथ धाम का विकास, 1790.3 करोड़ का गोरहर से खैरा टुंडा सिक्स लेन, 1332.8 करोड का खैरा टुंडा से बरवाअड्डा सिक्स लेन सड़क, 519 करोड का रांची महोलिया फोरलेन सड़क, 284.7 करोड का चौका से साहेरबेरा फोरलेन सड़क, 1144 करोड का गोविंदपुर चास वेस्ट बंगाल बॉर्डर फोरलेन सड़क, 2500 करोड़ का बोकारो अंगुल जगदीशपुर हल्दिया पाइपलाइन, 161.5 करोड का बरही में नया एलपीजी प्लांट, 93.4 करोड़ का बोकारो में एलपीजी प्लांट, 886 करोड का गढ़वा महुरिया रेलवे डबलिंग प्रोजेक्ट, 35 करोड़ का हंसडीहा गोड्डा रेलवे इलेक्ट्रिफिकेशन, 1103 करोड़ का देवघर में एम्स शामिल है.

 

जबकि प्रधानमंत्री जिन योजनाओं की आधारशिला रखेंगे, उनमें चार फोर लेन सड़क समेत एनएच 75 और एनएच 133 पर पेव्ड शोल्डर के साथ टू लेन सड़क, झरिया ब्लॉक सरफेस फैसिलिटी और पाइपलाइन, जसीडीह बाईपास न्यू लेन, गोड्डा कोच मेंटेनेंस डिपो के अलावे राजधानी रांची के इटकी इलाके में रेलवे ओवर ब्रिज कचहरी चौक से पिस्का मोड़ तक एलिवेटेड कॉरिडोर रांची रेलवे स्टेशन का हरी डेवलपमेंट प्रोजेक्ट शामिल है. इन परियोजनाओं की अनुमानित लागत लगभग 835 करोड है.

 

देवघर के रास्ते संथाल को साधने की तैयारी

प्रधानमंत्री के कार्यक्रम के बहाने भाजपा संथाल में अपनी खोयी साख को वापस लाने की तैयारी में जुट गयी है. प्रदेश भाजपा के सभी बड़े नेता लगातार पांच दिनों से देवघर के कैम्प किये हुए हैं. प्रदेश अध्यक्ष दीपक प्रकाश, विधायक दल के नेता बाबूलाल मरांडी, पूर्व मुख्यमंत्री और भाजपा के राष्ट्रीय उपाध्यक्ष रघुवर दास, अनुसूचित जनजाति मोर्चा के राष्ट्रीय अध्यक्ष व राज्यसभा सांसद समीर उरांव, गोड्डा सांसद निशिकांत दुबे समेत पार्टी के दर्जन भर आदिवासी नेता लगातार संथाल में डटे हुए हैं. प्रधानमंत्री के कार्यक्रम में चार लाख लोगों को बुलाने की तैयारी है. बाबानगरी पूरी तरह से भाग्वामय है. पिछले चुनाव की बात करें तो भाजपा को लोकसभा चुनाव में संथाल की  तीन सीटों में से दो पर जीत मिली थी लेकिन विधानसभा चुनाव में भाजपा को करारा झटका लगा था. संथाल में विधानसभा की 18 सीटें हैं, भाजपा को चार सीटों पर संतोष करना पड़ा था. भाजपा के पास अच्छा मौका है कि वह प्रधानमंत्री के कार्यक्रम के बहाने संथाल को साध सके. पार्टी के नेता इस कार्य में जुट गए हैं.

Related Articles

Back to top button