न्यूज़ विंग
कल का इंतज़ार क्यों, आज की खबर अभी पढ़ें

गोमिया बीडीओ ने किया कस्तूरबा आवासीय विद्यालय का औचक निरीक्षण

नियमों की अनदेखी कर आवासीय विद्यालय चलाने पर वार्डेन को दिया नोटिस

102

Bermo : गोमिया बीडीओ ने शुक्रवार को कस्तूरबा गांधी आवासीय विद्यालय का औचक निरीक्षण किया. नियमों को ताक पर रख कर विद्यालय चलाने के मामले में बीडीओ के निर्देश पर बीइइओ ने वार्डेन को कारण बताओ नोटिस जारी किया है.

mi banner add

इसे भी पढ़ें –आरयू ने एडवांस में लिया डिग्री का शुल्‍क, 6 साल बाद भी छात्र लगा रहे हैं चक्‍कर

निरीक्षण के दौरान पायी गयी कई खामियां

निरीक्षण के दौरान बीडीओ ने कई खामियां पायी. प्रखंड शिक्षा प्रसार पदाधिकारी ने कहा कि नियमतः विद्यालय परिसर में कोई भी पुरूष रह नहीं  सकता है. लेकिन निरीक्षण के दौरान शिक्षिका कुमारी निभा के पति विद्यालय के टीचर आवास में पाये गये. अन्य शिक्षिका के पति भी विद्यालय के टीचर आवास में रहने की सूचना है. विद्यालय के अनुसेवक सह सुरक्षा प्रहरी सुपेंद्र प्रजापति भी टीचर आवास में पाये गए. सुरक्षा प्रहरी को निर्देश दिया गया कि वे मेन गेट के कमरे में रहें और नियमों के विरूद्ध पाये गए तो सख्त कार्रवाई होगी. शिक्षिका कुमारी निभा के पति को अविलंब विद्यालय के टीचर आवास को खाली करने का निर्देश दिया गया. छात्राओं की शिकायत पर लैब का निरीक्षण भी किया गया, जो जांच में बंद पाया गया.

Related Posts

गिरिडीह : बार-बार ड्रेस बदलकर सामने आ रही थी महिलायें, बच्चा चोर समझ लोगों ने घेरा

पुलिस ने पूछताछ की तो उन महिलाओं ने खुद को राजस्थान की निवासी बताया और कहा कि वे वहां सूखा पड़ जाने के कारण इस क्षेत्र में भीख मांगने आयी हैं

इसे भी पढ़ें –14 आइएएस का तबादला, सतेंद्र सिंह बने राज्यपाल के प्रधान सचिव, डीके तिवारी ऊर्जा विकास निगम लि. के…

छात्राओं को पुस्तक उपलब्ध नहीं कराया गया

बीइइओ ने कहा कि निर्देश के बाद भी नवम वर्ग की छात्राओं को पुस्तक उपलब्ध नहीं कराया गया, जो कि अनुशासनहीनता की पराकाष्ठा को दर्शाता है. जबकि निर्देश था कि यदि समय पर पुस्तक नहीं मिलती है तो उस परिस्थिति में पुरानी पुस्तक मुहैया कराकर छात्राओं का पठन-पाठन सुनिश्चित किया जाना था.वार्डेन ने इस पर कोई कार्रवाई नहीं की है. बीइइओ ने वार्डेन अनिता कुमारी को निरीक्षण में पायी गयी गड़बड़ि‍यों पर कारण बताओ नोटिस दिया है. इस संबंध में वार्डेन अनिता कुमारी से संपर्क करने की कोशिश की गई, लेकिन उनका मोबाइल बंद मिला.

हमें सपोर्ट करें, ताकि हम करते रहें स्वतंत्र और जनपक्षधर पत्रकारिता...

Get real time updates directly on you device, subscribe now.

You might also like
%d bloggers like this: