GoddaJharkhandLead News

मेडिकल छात्रा पूजा का शव पहुंचा गोड्डा, नहीं थम रहे घरवालों के आंसू

  • पतरातू डैम से एक दिन पूर्व बरामद हुई थी हजारीबाग मेडिकल कॉलेज की छात्रा पूजा की लाश
  • घर की इकलौती बेटी थी पूजा, भाई चेन्नई में है इंजीनियर

Godda : पतरातू डैम से एक दिन पूर्व बरामद हजारीबाग मेडिकल कॉलेज की छात्रा पूजा भारती का पार्थिव शरीर बुधवार सुबह गोड्डा पहुंचा. पूजा का शव लोहियानगर पहुंचते ही लोगों की भीड़ जुट गई.

पूजा के घर के बाहर जुटे लोग आक्रोशित थे और परिजनों का रो-रो कर बुरा हाल था. मालूम हो कि एक दिन पूर्व रामगढ़ जिले के पतरातू डैम में पैर हाथ बंधा शव मिला था.

हालांकि, अभी तक यह खुलासा नहीं हो पाया है कि पूजा की हत्या किसने और क्यों की है. हत्या से पूर्व दुष्कर्म की भी आशंका जताई जा रही है. बताया जाता है कि पूजा भारती पढ़ने लिखने में बेहद गंभीर थी.

advt

उसने कोटा में 3 साल रहकर मेडिकल की तैयारी कि थी पिछले साल ही हजारीबाग मेडिकल कॉलेज में पढ़ाई करने के लिए नामांकन करवाई थी. पूजा की मम्मी कहती है मेरी बेटी बार-बार कहती थी मम्मी में एमबीबीएस डॉक्टर बन के रहूंगी.

adv

इसे भी पढ़ें- झारखंड को केंद्र ने फिर दिया बड़ा झटका, राज्य के खाते से RBI ने फिर काटे 714 करोड़

एमबीबीएस की छात्रा पूजा इकलौती बेटी थी. बड़ा भाई अनुराग अतुल्य चेन्नई में इंजीनियर है. पिता अवध विहारी पूर्वे शिक्षक से सेवानिवृत्त हुए हैं. पूजा की मां पारा शिक्षक है. एमबीबीएस की छात्रा डॉक्टर पूजा भारती गोड्डा जिले के लोहिया नगर मोहल्ले की एक होनहार बेटी थी. घर और परिवार वालों पर पूजा पर गर्व की पूजा एक दिन एमबीबीएस बनकर जिले का नाम रोशन करेगी.

पूजा की मम्मी कहती है मेरी बेटी से उस दिन एक बार ही वीडियो कॉलिंग कर बात हुई थी बेटी ने कहा था कि मम्मी हम एग्जाम देने जा रहे हैं फिर शाम में बेटी से बात करने के लिए फोन लगाई तो पूजा का मोबाइल स्विच ऑफ था.

एमबीबीएस की छात्रा डॉक्टर पूजा भारती मौत के बाद कांग्रेस के विधायक दीपिका पांडे सिंह ने झारखंड सरकार पर सवाल खड़े कर दिए और विधायक ने ट्वीट कर लिखा है झारखंड में अपराधियों ने सारी हदें पार कर दी है लगातार महिलाओं और लड़कियों के खिलाफ अपराधिक मामले बढ़ते जा रहे हैं मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन से कहा है मैं एक महिला के तौर पर विनम्र विनती करती हूं संलिप्त दोषियों के खिलाफ सख्त कार्रवाई हो ताकि प्रदेश सुरक्षित रहे.

इसे भी पढ़ें- एमएस धौनी को झटका, कड़कनाथ के जिन चूजों का दिया था आर्डर वह बर्ड फ्लू की चपेट में

Related Articles

Back to top button
%d bloggers like this: