न्यूज़ विंग
कल का इंतज़ार क्यों, आज की खबर अभी पढ़ें

गीता कोड़ा ने थामा कांग्रेस का हाथ, बाबूलाल मरांडी ने भी की राहुल गांधी से मुलाकात

293

Ranchi : आगामी लोकसभा और झारखंड विधानसभा चुनाव के पहले राज्य की राजनीति में गुरुवार को एक बड़ा बदलाव देखने को मिला. पूर्व मुख्यमंत्री मधु कोड़ा की पत्नी और पश्चिमी सिंहभूम जिले के जगन्नाथपुर से विधायक गीता कोड़ा ने कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी की मौजूदगी में कांग्रेस पार्टी की सदस्यता ली. मधु कोड़ा की पार्टी का नाम जय भारत समता पार्टी है. कोल्हान क्षेत्र में मधु कोड़ा की बड़ी पकड़ रही है. पहले भी पूर्व मुख्यमंत्री कोल्हान क्षेत्र के पश्चिमी सिहंभूम क्षेत्र से सांसद रहे हैं. ऐसे में माना जा रहा है कि उनकी पत्नी और विधायक गीता कोड़ा के कांग्रेस का हाथ थामने से पार्टी को कोल्हान क्षेत्र में काफी मजबूती मिलने की उम्मीद है. इससे पहले उन्होंने दिल्ली में कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी से भी मुलाकात की. गीता कोड़ा के कांग्रेस में शामिल होने के बाद झारखंड के प्रभारी आरपीएन सिंह ने मीडिया को बताया कि गीता कोड़ा के आने से पार्टी को झारखंड, खासकर कोल्हान में मजबूती मिलेगी और महिलाओं की वह आवाज बनेंगी.

इसे भी पढ़ें- 15 नवंबर से कलमबंद हड़ताल करेंगे राज्य के सभी मुखिया, पंचायतों का काम होगा बाधित

राहुल से मिले बाबूलाल, मांगी लोकसभा की चार सीटें

गीता कोड़ा के कांग्रेस की सदस्यता लेने को राज्य में महागठबंधन की मजबूती के रूप में देखा जा रहा है. सूत्रों के मुताबिक, लोकसभा चुनाव से पहले महागठबंधन के बीच सीटों का बंटवारा साफ होता दिख रहा है. यह चर्चा इसलिए भी है, क्योंकि गुरुवार को ही पूर्व मुख्यमंत्री बाबूलाल मरांडी ने भी कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी से मुलाकात की. महागठबंधन को लेकर राहुल गांधी से दिल्ली में तुगलक लेन स्थित उनके आवास पर झारखंड विकास मोर्चा के अध्य्क्ष बाबूलाल मरांडी और विधायक दल के नेता प्रदीप यादव ने मुलाकात की. साथ में झारखंड कांग्रेस के प्रभारी आरपीएन सिंह भी मौजूद थे. इस दौरान बाबूलाल मरांडी ने राहुल गांधी से जल्द महागठबंधन की रूपरेखा तय करने की बात कही और साथ ही लोकसभा चुनाव में चार लोकसभा सीटों की मांग की. राहुल गांधी ने बाबूलाल मरांडी को आश्वासन दिया है कि अगले महीने तक वह महागठबंधन के सभी प्रमुख नेताओं के साथ बैठक कर झारखंड में लोकसभा सीटों के बंटवारे की रूपरेखा तय करेंगे. राहुल गांधी ने मौके पर मौजूद झाविमो विधायक प्रदीप यादव से भी बात की और गोड्डा में अडानी पावर प्लांट के खिलाफ आंदोलन और विरोध करने पर उनकी प्रशंसा भी की. हालांकि, सूत्रों से मिली जानकारी के अनुसार, लोकसभा चुनाव को लेकर झारखंड में विपक्षी दलों के बीच सीटों की संख्या पर सहमति बन गयी है. मिली जानकारी के अनुसार पसंद की सीटों को लेकर विपक्षी दलों में बातचीत जारी है. कांग्रेस और झामुमो में चाईबासा और जमशेदपुर सीट को लेकर बातचीत जारी है. राजनीतिक सूत्रों के मुताबिक कुछ इस तरह से लोकसभा सीटों के तालमेल का स्वरूप सामने आ रहा है-

  • झामुमो : दुमका, राजमहल, गिरिडीह और चाईबासा
  • कांग्रेस : रांची, लोहरदगा, खूंटी, जमशेदपुर, धनबाद और पश्चिमी सिंहभूम
  • जेवीएम : कोडरमा, गोड्डा और चतरा
  • सीपीआई : हजारीबाग

गीता कोड़ा ने थामा कांग्रेस का हाथ, बाबूलाल मरांडी ने भी की राहुल गांधी से मुलाकात

palamu_12

इसे भी पढ़ें- सफाई व्यवस्था संभाल रही एस्सेल इंफ्रा से नगर विकास मंत्री की चलती है कमीशनखोरी :  सुबोधकांत सहाय

कांग्रेस के समर्थन से सीएम बने थे मधु कोड़ा, पत्नी के आने से पार्टी को मिलेगी मजबूती

मालूम हो कि कोल्हान क्षेत्र में मधु कोड़ा की पार्टी का एक बड़ा जनाधार रहा है. इसे देख ऐसा माना जा रहा है कि गीता कोड़ा के कांग्रेस में शामिल होने से पार्टी को मजबूती मिलेगी. पूर्व सीएम की पत्नी गीता कोड़ा वर्ष 2009 और 2014 में जगन्नाथपुर विधानसभा क्षेत्र से जय भारत समता पार्टी के टिकट पर निर्वाचित हुई हैं. हाल के दिनों में गीता कोड़ा लगातार एनडीए की बैठक में भी शामिल हो रही थीं, लेकिन अब चुनाव नजदीक आते ही उन्होंने अपना स्टैंड साफ कर दिया है. ऐसी संभावना जतायी जा रही है कि चाईबासा से वह कांग्रेस के टिकट पर लोकसभा चुनाव लड़ सकती हैं, इससे पहले इस सीट पर मधु कोड़ा भी चुनाव लड़ चुके हैं, चाईबासा संसदीय क्षेत्र से वह 2009 में चुनाव जीत चुके हैं. हालांकि 2014 में हुए लोकसभा चुनावों में पश्चिमी सिंहभूम संसदीय सीट से उन्हें हार का मुंह देखना पड़ा था. मोदी लहर पर सवार भाजपा के लक्ष्मण गिलुवा ने गीता को 87,524 मतों के अंतर से हरा दिया था. इससे पहले कांग्रेस के सहयोग से ही निर्दलीय विधायक रहे मधु कोड़ा राज्य के मुख्यमंत्री बने थे. बाद में जब उन पर कोयला खदानों के आवंटन में गड़बड़ी करने, आय से अधिक संपत्ति अर्जित करने के मामले समेत भ्रष्टाचार के कई आरोप लगे थे. उसके बाद मधु कोड़ा ने जगन्नाथपुर विधानसभा सीट से पत्नी गीता कोड़ा को चुनाव जिताया था.

न्यूज विंग एंड्रॉएड ऐप डाउनलोड करने के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पेज लाइक कर फॉलो भी कर सकते हैं.

Get real time updates directly on you device, subscribe now.

%d bloggers like this: