BiharGiridihJharkhand

Giridih : सदर विधायक सोनू के संरक्षण में भूमाफियाओं ने किया जमीन का घोटाला – सुरेश साहू 

सरकार और विधायक के इशारे पर चुप रह गई पुलिस 

Giridih : गिरिडीह के भाजपा नेता सह प्रदेश कार्यसमिति सदस्य सुरेश साहू ने प्रेसवार्ता के दौरान हेमंत सरकार व सदर विधायक सुदिव्य कुमार सोनू पर जोरदार हमला बोला. उन्होंने कहा कि भूमाफिया सिर्फ सता और सताधारी सदर विधायक सोनू के संरक्षण में पल रहे है. एक तरफ हेमंत सरकार एक हजार दिन के झूठे और बगैर किसी उपलब्धि के उपब्धि गिनाने में व्यस्त है तो दूसरी तरफ गिरिडीह में  जमीन का घोटाला हो भी चुका है.

भाजपा नेता ने कहा कि जिस वक्त राज्य में भाजपा की सरकार बनी, तो सबसे पहले जिले के सारे भूमाफियो को भूमिगत होना होगा, या उन पर भी बुलडोजर चलना तय है. प्रेसवार्ता के दौरान प्रदेश कार्यसमिति सदस्य सुरेश ने एक साथ दर्जन भर जमीन घोटाला का जिक्र करते हुए कहा कि पचम्बा बस डिपो, पचम्बा के नर्मदा धाम जमीन घोटाला, उत्पाद विभाग के पैंतीस करोड़ का  जमीन घोटाला बरगंदा तालाब का बीस करोड़ का जमीन घोटाला और पचम्बा के लोहपिट्टी में शिवम ढाबा के समीप की पच्चीस करोड़ के जमीन को हड़पना समेत ऐसे कई जमीन से जुड़े मामले है जिसमे सीधे तौर पर विधायक सोनू के संरक्षण में भूमाफियाओं ने कब्जा किया है.

साथ ही कहा कि  जिले में विधि व्यस्था पूरी तरह से फेल है. जिस पुलिस को कानून व्यस्था पर नजर रखना चाहिए, और अपराधियो को दबोचना चाहिए,  वही पुलिस सदर विधायक के इशारे पर जिले के भूमाफियों के काम करने में व्यस्त है.

उन्होंने कहा कि राज्य की जनता हेमंत सरकार से त्रस्त है तो गिरिडीह सदर विधायक से त्रस्त हो चुका है.  जिले में मारपीट, छिनतई के साथ आए दिन अपराध की घटना  पढ़ने को मिल रहा है. भाजपा नेता ने आरोप लगाते हुए कहा कि गिरिडीह के ब्रह्मडीहा कोल खदान में सीबीआई द्वारा जब्त कोयला चोरी की घटना में भी सदर विधायक का पूरा सहयोग रहा. जिसका अब ईडी की जांच शुरू होने वाला हैं. इधर प्रेसवार्ता में भाजपा नेता मनोज मोर्या, और राजेश जायसवाल भी शामिल थे.

आरोपों का कोई तथ्य नहीं- सदर विधायक

इधर भाजपा नेता सुरेश साहू के आरोपों को लेकर स्थानीय सदर विधायक सोनू ने कहा कि पूरे आरोपों का कोई तथ्य नही है और बगैर तथ्य के ऐसे आरोपों का तो वो पहले जवाब देना जरूरी नहीं समझते. क्योंकि ऐसे आरोप लगाने वाले किसी भी नेताओ को प्रमाण और तथ्य के साथ सामने आ कर बोलना चाहिए, ना की जनता के बीच झुटी अफवाह पैदा करना चाहिए, ये आरोप खुद में अफवाह पैदा करने वाला और जनता के नजर में खुद को एक नाकाम नेता साबित करने वाला है.

इसे भी पढ़ें: पलामू: जैप-8 में तैनात जवान को ट्रेनिंग के दौरान आंख में गोली के झटका लगने से घायल, रांची रेफर

 

Related Articles

Back to top button