GiridihJharkhand

गिरिडीह:  तीन नये कोरोना संक्रमित मिले, दो शहर के, तीसरा ईसरी बाजार का, एक्टिव केस की संख्या नौ

आठ लोग ठीक हुए

Girirdih :  एक साथ तीन कोरोना संक्रमितों के मिलने के बाद मंगलवार को शहर दिन भर चर्चा का विषय रहा. चर्चा हुई तो लोगों में दहशत भी रहा. क्योंकि दोनों संक्रमित शहर में एक-दुसरे से सटे इलाकों में मिले. वहीं तीसरा संक्रमित गिरिडीह के ईसरी बाजार का रहने वाला है.

शहर में मिले दोनों संक्रमितों में पहला संक्रमित शहर के मकतपुर मुहल्ले का है. दूसरा संक्रमित कुरैशी मुहल्ला में निकला. शहर से दो संक्रमितों के मिलने के बाद गिरिडीह में कोरोना संक्रमितों का आंकड़ा बढ़कर 118 हो गया है. इसमें 83 संक्रमित ठीक भी हो चुके हैं. दो संक्रमितों के मिलने के बाद जिले में एक्टिव केस की संख्या अब नौ हो गई है.

शहर के दोनों संक्रमितों का कोई ट्रेवल हिस्ट्री नहीं है. बल्कि, दोनों शहर में रह रहे थे. इसे जाहिर है कि कम्यूनिटी ट्रांसमिशन के कारण दोनों कोरोना संक्रमति हुए. इधर दो संक्रमितों के मिलने के बाद गिरिडीह प्रशासन से लेकर स्वास्थ विभाग भी सक्रिय हो गया.

इसे भी पढ़ेंः Corona Good News: भारत में इंसानों पर हो रहा देसी वैक्सीन का परीक्षण

स्पॉट पर पहुंचे अधिकारी

सोमवार की देर रात शहर के दो मुहल्लों में मिले संक्रमितों के बाद सदर एसडीएम और सिविल सर्जन डा. अवद्येश सिन्हा के निर्देश पर बीडिओ गौतम भगत, डा. आशिष सिन्हा, डा. एल. एन दास और नगर थाना प्रभारी पहले कुरैशी मुहल्ला पहुंचे. इस दौरान कोरोना संक्रमित के घर की पहचान की गई. जिसमें जानकारी मिली कि कोरोना संक्रमित युवक एक गाड़ी मैकेनिक है. और गाड़ी बनाने के लिए सोमवार को ही हजारीबाग गया हुआ था. अधिकारियों ने फोन कर संक्रमित को गिरिडीह आने को कहा.

कुरैशी मुहल्ला का संक्रमित युवक भी बीतें आठ जूलाई को शहर के एक चिकित्सक से तबीयत खराब होने के दौरान इलाज कराने पहुंचा था. जहां चिकित्सक ने कुरैशी मुहल्ला के संक्रमित युवक को तुंरत कोरोना जांच कराने का सुझाव दिया. इसके बाद युवक खुद नौ जूलाई  को सदर अस्पताल पहुंच कर अपना सेंपल दिया.

इसे भी पढ़ेंः टेरर फंडिंग मामले में पीएलएफआइ सुप्रीमो दिनेश गोप के सहयोगी फुलेश्वर गोप को एनआइए ने किया गिरफ्तार

तीन साल की बच्ची समेत आठ कोरोना से जीते जंग

बढ़ते संक्रमण के बीच मंगलवार का दिन एक बार फिर गिरिडीह के लिए मंगलमय रहा. जब तीन साल की बच्ची समेत सात संक्रमित कोरोना से जंग जीतकर अपने-अपने घर लौटे. सिविल सर्जन डा. अवद्येश सिन्हा के निर्देश पर डा. आशीष सिन्हा, डा. एल. एन दास और डीपीएम प्रतिमा मिश्रा समेत सभी स्वास्थ कर्मी मंगलवार को कोविद-19 अस्पताल पहुंचे. जहां तीनों ने सबसे पहले तीन साल की बच्ची को फूलों का गुलदस्ता उसका उत्साह बढ़ाया. और कोरोना से जंग जीतने के बाद पीठ थपथपा कर बधाई दी.

इस दौरान आठ संक्रमितों को बुके देने के बाद चिकित्सकों ने बेहतर होने का प्रमाण पत्र देते हुए उनके घर भेजा. जिन आठ संक्रमितों की रिपोर्ट दूसरी बार निगेटिव आयी, और उन्हें मुक्त किया गया. उसमें जमुआ के बलहरा गांव से दो संक्रमित, देवरी से दो संक्रमित, बिरनी के गुड़ीटांड से एक और महिलाडीह से एक के अलावे गांडेय के भरकट्ठा से एक और सरिया के मडरमा गांव से एक संक्रमित शामिल हैं.

इसे भी पढ़ेंः कोई भी कोरोना मरीज खर्च के कारण बिना इलाज नहीं लौटना चाहिए : सुप्रीम कोर्ट

Advertisement

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Related Articles

Back to top button
%d bloggers like this: