GiridihJharkhand

गिरिडीह : महिला समेत तीन बच्चों के संदिग्ध सुसाईड की जांच करने एक साथ गांव पहुंचीं तीन जांच एजेंसियां

चार माह पहले की है घटना

Giridih : धनवार के परसन ओपी स्थित पुररेखखुर्द गांव की चर्चित संदिग्ध आत्महत्या मामले की जांच करने एक साथ तीन एजेंसियों की टीम पहुंची. जांच टीम में फोरेंसिक लैब के साथ डॉग स्कॉवय और सीआइडी के एसपी भी शामिल थे.
तीनों एजेंसियों की जांच टीम राज्य पुलिस मुख्यालय के निर्देश पर गांव पहुंची थी. जहां गत जूलाई में एक महिला द्वारा अपने बच्चों के साथ आग लगाकर सुसाईड कर लेने का मामला सामने आया था. घटना के बाद मृतिका के पिता चंद्रिका महतो द्वारा पति रवीन्द्र यादव समेत आठ लोगों पर हत्या का केस दर्ज किया गया था. जिसमें ससुर प्रसादी यादव, भैंसूर सीताराम यादव, गोतनी रीना देवी, नंनदोसी बंसत यादव समेत अन्य आरोपी शामिल हैं.

Jharkhand Rai

इसे भी पढ़ेः मेयर का विरोध दरकिनार, श्री पब्लिकेशन ने शुरू की होल्डिंग टैक्स की वसूली

क्या है पूरा मामला

जानकारी के अनुसार पुररेखखुर्द गांव के जिस घर में यह घटना हुई थी, वह प्रसादी यादव के घर से जुड़ा था. घटना में प्रसादी यादव के बेटे रवीन्द्र यादव की पत्नी सोनिया देवी के अलावे उसके तीन बच्चों आठ वर्षीय बेटा दिलीप कुमार, पांच वर्षीय बेटी सोनम और दो वर्षीय छोटू की मौत आग में जलने से हो गई थी. इस दौरान पुलिस ने एक बच्चे के शव को कमरे के भीतर पड़े बंद पड़े बक्से में जला हुआ पाया गया था. वहीं दो बच्चों समेत सोनिया देवी का शव कमरे में बिस्तर पर ही था. घटना के बाद पूर्व एसपी सुरेन्द्र झा समेत कई पुलिस पदाधिकारी इस दर्दनाक घटना की जानकारी पर पुररेखुर्द गांव पहुंचे थे.

इसे भी पढ़ेः 10 महीने में 1200 बलात्कार, भाजपा ने राज्यपाल से कहा- संज्ञान लीजिए

Samford

Advertisement

Related Articles

Back to top button
%d bloggers like this: