GiridihJharkhand

गिरिडीहः जिले में लगातार बारिश से ढहे लोगों के आशियाने, खंडोली डैम का फाटक खोलने के निर्देश

Giridih : लगातार दो दिनों से हो रही बारिश ने गिरिडीह में लोगों की परेशानी बढ़ा दी है. शहरी पेयजलापूर्ति योजना खंडोली डैम का जलस्तर भी काफी अधिक बढ़ गया है. जिसकी वजह से नगर निगम ने खंडोली डैम का गेट डेढ़ फीट खोलने का निर्देश दिया है. गुरुवार को उपमहापौर प्रकाश सेठ और भाजपा नेता संजीत सिंह पप्पू ने डैम का निरीक्षण किया.

Sanjeevani

इसे भी पढ़ें :BIG NEWS : मेडिकल कॉलेज में MBBS के 23 विद्यार्थी कोरोना संक्रमित, सभी ने ली थी वैक्सीन

MDLM

धनवार के अलग-अलग स्थानों में आधा दर्जन मिट्टी के घर मूसलाधार बारिश के कारण धराशायी हो गये.
जानकारी के अनुसार धनवार के गरजाशरण में मो. श्मसुद्दीन का मिट्टी का घर ढह गया.

गनीमत रही कि परिवार के सदस्यों को कोई नुकसान नहीं पहुंची. धनवार के जेरुआडीह में जिबरेल अंसारी का मिट्टी का घर पूरी तरह से टूट गया. जिससे घर में रखे समान बर्बाद हो गये.

इसे भी पढ़ें :जब तक नये अस्पताल नहीं बनते, तब तक क्या मरीजों को अपने हाल पर छोड़ दिया जाएगा: HC

धनवार के चागोसिंगा गांव में ही शबाना खातून का भी घर जमींदोज हो गया है. परिवार के सभी सदस्य सुरक्षित बताए जा रहे हैं.

धनवार के पंचरुखी गांव में ही लक्ष्मण राणा और संगीता देवी के घर ढग गये हैं. गादी पंचायत के अरगाली में ही भृगुनंदन तिवारी और पवन राम का घर भी टूट गया है. जिसमें अनाज का नुकसान हुआ है.

इसे भी पढ़ें :वायुसेना प्रमुख बने Air Chief Marshal VR Chaudhary, आरकेएस भदौरिया की ली जगह, जानें करियर डिटेल

 

गांडेय के बड़कीटांड में इम्तियाज अंसारी का कच्चा मकान भी बारिश में ढह गया. हालांकि जान माल का कोई नुकसान नहीं हुआ है. क्षेत्र के ही अशोक मंडल का कच्चा मकान भी टूट गया. जिससे घर के सभी समान बर्बाद हो गये. पंचायत समिति सदस्य अशोक सोरेन समेत गांडेय के कई गांवो के ग्रामीणों के घर बारिश का पानी घुस गया है.

Related Articles

Back to top button