GiridihJharkhand

#Giridih: छेड़खानी की शिकायत करने गयी पीड़िता को एसआइ ने फटकारा, सीएम से शिकायत के बाद किन्नर समेत छह पर केस

Giridih: मुहल्ले के युवकों द्वारा छेड़खानी की शिकार पीड़िता को जब गिरिडीह मुफ्फसिल थाना पुलिस से पहले कोई सहयोग नहीं मिला, तो पीड़िता ने ट्विटर पर सीएम हेमंत सोरेन को वीडियो टैग कर घटना की जानकारी दी.

सीएम ने मामले की गंभीरता को देखते हुए गिरिडीह एसपी सुरेन्द्र झा को मामले की जांच कर आरोपियों के खिलाफ कार्रवाई का निर्देश दिया.

एसपी झा ने भी थाना के पदाधिकारियों को कड़े शब्दों में निर्देश जारी कर आरोपियों के खिलाफ कार्रवाई करने की बात कही है.

Catalyst IAS
ram janam hospital

इसे भी पढ़ें : 5 अप्रैल को 9 मिनट के लिए सिर्फ घरों के बल्ब बंद करें, अन्य उपकरण चलते रहने देंः ऊर्जा विभाग

The Royal’s
Sanjeevani

एसपी के निर्देश पर हरकत में आयी पुलिस

एसपी के निर्देश के बाद पुलिस हरकत में आयी और पीड़िता के आवेदन पर चार आरोपियों के अलावे एक किन्नर व उसकी मां समेत छह के खिलाफ केस दर्ज कर जांच में जुट गयी है.

किन्नर व उसकी मां पर चारों आरोपियों को छेड़खानी के लिए भड़काने व मारपीट के आरोप लगे हैं. साथ ही दोनों ने पीड़िता के साथ बीते 31 मार्च को मारपीट भी की थी.

पुलिस ने चारों आरोपियों पर जहां छेड़खानी करने और अश्लील कमेंट्स करने की धारा के तहत केस दर्ज किया है। वहीं किन्नर व उसकी मां पर पीड़िता पर मारपीट करने व आरोपी युवकों को छेड़खानी करने को लेकर उकसाने की धाराओं के तहत केस दर्ज की है.

थाना कांड संख्या 87/20 में भादवि की धारा 323/341/354/506, 34 मुफ्फसिल थाना क्षेत्र के राजेन्द्र नगर निवासी गोंविद दास, सुरज दास, प्रदीप दास, बजरंगी राम और किन्नर व उसकी मां को नामजद अभियुक्त बनाया है.

इसे भी पढ़ें : #FightAgainstCorona: प. सिंहभूम जिला प्रशासन ने तैयार किया खास सैंपल कलेक्शन सेंटर, नहीं पड़ेगी पीपीई किट की जरूरत

किन्नर ने भी लगाये ऐसे ही आरोप

केस दर्ज होने के चंद घंटे के बाद आरोपी किन्नर ने भी पीड़िता के भाई समेत उसके दोस्तों पर यही आरोप लगाकर केस दर्ज कराने के लिए आवेदन दिया है जिसकी जांच में पुलिस जुटी हुई है.

इधर थाना को दिये आवेदन में पीड़ित युवती ने आरोप लगाते हुए कहा कि वह राजेन्द्र नगर में एक मकान में किराये पर रहती है. बीते 18 मार्च को जब वह जिम कर लौट रही थी तो मुहल्ले के यही चारों युवकों ने उस पर अश्लील कमेंट्स किये.

पहले दिन वह कुछ नहीं बोली लेकिन लगातार दो दिनों तक चारों आरोपी युवकों द्वारा किये गये अश्लील कमेंट्स के साथ हाथ पकड़ने की घटना के बाद युवती ने मुफ्फसिल थाना को आवेदन दिया.

टालमटोल करते रहे एसआइ

पीड़ित युवती के दिये आवेदन की जांच का जिम्मा थाना के एसआइ गौरव कुमार को दिया गया जिसमें पुलिस पदाधिकारी द्वारा आरोपियों के खिलाफ कार्रवाई करने के बजाय सिर्फ पूछताछ के बाद छोड़ दिया गया.

इसके बाद चारों ने 22 मार्च को दुबारा युवती के साथ छेड़खानी की जिसकी सूचना युवती ने दुबारा गौरव कुमार को दी, तो गौरव ने चारों के खिलाफ कार्रवाई का भरोसे दिया लेकिन कोई कार्रवाई नहीं की.

31 मार्च को चारों आरोपी व किन्नर व उसकी मां मिलकर पीड़िता के घर घुस गये. किन्नर व उसकी मां ने जबरन पीड़ित युवती को बाहर निकाला जबकि चारों में से एक युवक ने युवती का कुर्ता फाड़ दिया.

इस घटना की जानकारी देने युवती अपने भाई के साथ थाना पहुंची, तो पुलिस पदाधिकारी गौरव ने दोनों के साथ बदसलूकी की. इसके बाद युवती ने सीएम के ट्वीटर पर घटना की जानकारी दी.

इसे भी पढ़ें : #Jharkhand में PDS का हाल: दुकान से बाहर निकलकर वजन करने पर कम निकलता है अनाज

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Related Articles

Back to top button