GiridihJharkhand

गिरिडीह सदर विधायक सुदिव्य सोनू ने मनोनीत किये 48 प्रतिनिधि, अल्पसंख्यकों को प्राथमिकता

चैताडीह में मॉडल स्कूल भवन का किया शिलान्यास

Giridih : रविवार को गिरिडीह से झामुमो के सदर विधायक सुदिव्य कुमार सोनू कई कार्यक्रम में शामिल हुए. सदर प्रखंड के चैताडीह जहां दो करोड़ 49 लाख की लागत से प्रस्तावित मॉडल हाई स्कूल भवन निर्माण का शिलान्यास किया. सीबीएसई पैटर्न पर आधारित पढ़ाई को लेकर बनने इस हाई स्कूल के शिलान्यास के दौरान झामुमो अध्यक्ष संजय सिंह, गौरव कुमार, टुन्ना सिंह, अजयकांत झा, दिलीप रजक समेत कई शामिल हुए. चैताडीह में मॉडल स्कूल भवन शिलान्यास के दौरान सदर विधायक सोनू ने कहा कि हेमंत सरकार अब शिक्षा की क्वालिटी में सुधार लाने की दिशा में प्रयास तेज कर दिया है. सदर विधायक सोनू ने कहा कि पूरे जिले में तीन मॉडल स्कूल निर्माण की स्वीकृति मिली है. इसमें चैताडीह भी शामिल है. जहां सीबीएसई पैटर्न पर अब पढ़ाई होना है.

Sanjeevani

इसे भी पढ़ें : दो हफ्ते पहले से डॉक्टर कह रहे थे कि यह ओमिक्रोन का संक्रमण, सरकार अब कर रही है पुष्टि

MDLM

इस दौरान सदर विधायक सोनू ने रविवार को ही पार्टी कार्यालय में अपने 48 प्रतिनिधियों का भी लिस्ट जारी कर प्रतिनिधियों का स्वागत माला पहनाकर किया. साथ ही हर प्रतिनिधियों को मनोनयन पत्र भी विधायक द्वारा सौंपा गया. लेकिन 42 प्रतिनिधियों में अधिकांश पार्टी के अल्पसंख्यक चेहरों को सदर विधायक और झामुमो द्वारा प्राथमिकता दिया गया. प्रतिनिधि बनाएं गए झामुमो कार्यकर्ताओं से सदर विधायक ने कहा कि जनता के हर काम को सुगम बनाने के लिए सदर विस क्षेत्र में 48 प्रतिनिधि मनोनीत किए गए है. जो अब हर विभाग में व्याप्त जन समस्याओं को दूर करने की दिशा में कार्य करेगें. विधायक और अध्यक्ष संजय सिंह ने संयुक्त रुप से लिस्ट जारी किया.

किन लोगों को मिली जिम्मेवारी

जारी लिस्ट के अनुसार शाहनवाज अंसारी को बिजली अभियंता के साथ शिक्षा विभाग का दायित्व सौंपा गया. तो प्रमिला मेहरा को महिला बाल विकास की जिम्मेवारी दी गई. चांद रसीद अंसारी को अल्पसंख्या विभाग के साथ मदरसा और उर्दु स्कूलों की जिम्मेवारी सौंपी गई. नूर अहमद को खनन विभाग, असदुल्लाह को नगर निगम से जन्म-मृत्यु प्रमाण पत्र निर्गत कराने के साथ निगम से जुड़ी हर योजनाओं को लोगों तक पहुंचाने का जिम्मेवारी दिया गया.

इसे भी पढ़ें : प्रदेश भाजपा अध्यक्ष दीपक प्रकाश के बयान पर कांग्रेस का पलटवार, कहा-पूरी भाजपा झूठी

बुलंद अख्तर को सेलटैक्स कार्यालय के साथ पीएचईडी का जिम्मा सौंपा गया. इसी प्रकार अभय सिंह को एमवीआई कार्यालय तो डीटीओ कार्यालय क जिम्मा अकिल सोनू को सौंपा गया. जबकि आनंद मिश्रा को रजिस्ट्री कार्यालय, पवन सिंह को आपूर्ति कार्यालय, राकेश सिंह उर्फ टुन्ना को स्कील डेवलमेंट कौशल प्रशिक्षण का जिम्मा सौंपा गया. जारी लिस्ट में कई और को अन्य विभागों का प्रतिनिधि मनोनीत किया गया.

Related Articles

Back to top button