GiridihJharkhand

Giridih: सरकारी प्लॉट पर फैक्ट्री चलाने के मामले में टफकॉन छड़ कंपनी के मालिक को नोटिस देने की तैयारी

Giridih: सरकारी प्लॉट को कब्जा कर फैक्ट्री और गोदाम चलाने के बढ़ते मामले अब गिरिडीह प्रशासन के लिए सिरदर्द बनते जा रहे हैं. औद्योगिक क्षेत्र हरसिंगरायडीह के वार्ड पार्षद पप्पू रजक ने गिरिडीह शहर की नामचीन छड़ फैक्ट्री टफकॉन टीएमटी स्टील कंपनी लंगटा बाबा स्टील के मालिक मोहन साव पर जंगल किस्म के जमीन को हड़प कर फैक्ट्री चलाने का आरोप लगाया है.

यही आरोप लगाकर वार्ड पार्षद ने मामले की जांच के लिए डीसी राहुल सिन्हा, सदर एसडीएम प्रेरणा दीक्षित और सीओ रवीन्द्र सिन्हा से पत्राचार किया था. पार्षद के पत्राचार के आधार पर तीन दिन पहले एसडीएम प्रेरणा दीक्षित और सीओ ने लंगटा बाबा स्टील फैक्ट्री के प्लॉट की जांच भी की थी.

advt

शुरुआती जांच में दोनों अधिकारियों द्वारा लंगटा बाबा स्टील फैक्ट्री के प्लॉट पर बड़े पैमाने पर गड़बड़ी पायी जाने की बात सामने आयी है. सीओ के अनुसार फैक्ट्री का प्लॉट वाला हिस्सा कब्जे में है या नहीं.

इसे भी पढ़ें – झारखंड हाइकोर्ट में 14 जुलाई तक केस फाइलिंग नहीं

पूरी तरह जंगल किस्म की भूमि

प्रशासनिक सूत्रों की मानें तो जांच के दौरान अधिकारियों ने यह भी पाया कि हरसिंगरायडीह के खाता नंबर 12 के प्लॉट नंबर 1023 1911 के खातियान में पूरी तरह से अगर जंगल किस्म की भूमि है तो इस प्लॉट पर फैक्ट्री किस आधार पर इतने सालों से चल रही थी.

वैसे यह स्पष्ट नहीं हुआ है कि जिस प्लॉट पर लंगटा बाबा स्टील फैक्ट्री संचालित है, उसका पूरा दस्तावेज है भी या नहीं. जांच के क्रम में ही एसडीएम ने सीओ से फैक्ट्री मालिक को नोटिस जारी कर जवाब मांगने का निर्देश दिया था. लिहाजा, एसडीएम के निर्देश पर अब सीओ रवीन्द्र सिन्हा लंगटा बाबा स्टील फैक्ट्री मालिक मोहन साव को नोटिस जारी करने की प्रकिया में जुट गये हैं.

इसे भी पढ़ें – 60 हजार पारा शिक्षकों का मानदेय जारी, 78 करोड़ रुपये आवंटित

जांच के आधार पर जारी होगा नोटिस

सीओ के अनुसार इसकी जांच पूरी होने की प्रकिया में है. फिलहाल जितनी जांच हुई है उसके आधार पर अब फैक्ट्री मालिक को नोटिस जारी किया जायेगा.

इधर इस प्लॉट को लेकर अधिकारियों के समक्ष शिकायत करने वाले पार्षद पप्पू रजक ने कहा कि लंगटा बाबा स्टील फैक्ट्री का प्लॉट पूरी तरह से जंगल किस्म की जमीन पर है. अगर फैक्ट्री मालिक मोहन साव के नाम पर हरसिंगरायडीह का यह प्लॉट है तो फैक्ट्री मालिक सारे दस्तावेज दिखाएं. सही-गलत का फैसला हो जायेगा, क्योंकि लंगटा बाबा स्टील फैक्ट्री जिस प्लॉट पर संचालित है उनके अनुसार खातियान में खाता नंबर 12 के प्लॉट नंबर 1023 जंगल किस्म की भूमि है.

इसी भूमि पर कुछ और फैक्ट्री संचालित हैं जिसके मालिक महादेव साव और आरएन सिंह हैं. इनके प्लॉट की भी जांच होना चाहिए. पार्षद ने यह भी कहा कि जांच सही तरीके से नहीं हुई तो वह स्थानीय ग्रामीणों के साथ इस मुद्दे पर धरना देगें.

इधर भाकपा माले नेता राजेश सिन्हा ने भी लंगटा बाबा स्टील फैक्ट्री के प्लॉट की जांच का मांग की है. कहा कि जांच हो रही है तो सही से होनी चाहिए. गड़बड़ी है तो मामला सामने आया है.

इधर लंगटा बाबा स्टील के फैक्ट्री मालिक मोहन साव ने कहा कि उनकी फैक्ट्री के सारे दस्तावेज दुरुस्त हैं. पहले सीओ अचंल कार्यालय में देखें कि उनकी फैक्ट्री के सारे दस्तावेज है या नहीं. उसके बाद फैक्ट्री जमीन की जांच करें, क्योंकि वन विभाग से भी लंगटा बाबा स्टील फैक्ट्री को एनओसी मिला हुआ है.

जितने दस्तावेज अचंल कार्यालय में मौजूद हैं उन दस्तावेजों के आधार पर फैक्ट्री लगाने के लिए बैंक से लोन लिया गया है. ऐसे में कोई अधिकारी यह बोल दे कि पूरा प्लॉट जंगल किस्म का है यह कितना सही होगा?

इसे भी पढ़ें – Corona: झारखंड में 17 नये संक्रमित मिले, हुए 3210 केस

Advertisement

Related Articles

Back to top button
%d bloggers like this: