NEWS

निर्माणाधीन डिग्री कॉलेज में जेसीबी और मिक्सचर मशीन को आग लगानेवाले हार्डकोर नक्सली को गिरिडीह पुलिस ने किया गिरफ्तार

विज्ञापन

Giridih : पीरटांड़ के हार्डकोर माओवादी को गिरिडीह पुलिस थाना क्षेत्र के लेढ़वा गांव से दबोचने में सफलता रही. पुलिस ने उसे तीन पहले ही गिरफ्तार कर लिया था. मंगलवार को पुलिस लाइन में प्रेसवार्ता कर एसपी अमित रेणु और प्रभारी अपर पुलिस अधीक्षक संतोष मिश्रा ने बताया कि गिरफ्तार माओवादी मनोज राय उर्फ मनोज दा उर्फ राजेश राय पुलिस मुख्यालय द्वारा घोषित एक लाख का इनामी माओवादी है.

इसे भी पढ़ेंः आपराधिक गिरोह पहाड़ी चीता और पुलिस के बीच मुठभेड़ की जांच को CID ने किया टेकओवर

एक शादी में शरीक हुआ था

एएसपी अभियान संतोष मिश्रा के नेतृत्व में पुलिस ने इस हार्डकोर माओवादी को लेढ़वा गांव से उस वक्त गिरफ्तार किया, जब मनोज राय संगठन के ही एक सहयोगी के साथ एक शादी समारोह में पहुंचा था. पुलिस सूत्रों की मानें तो पुलिस की भनक मिलते ही मनोज का साथी फरार हो गया, लेकिन पुलिस ने हार्डकोर माओवादी मनोज राय को दबोचने में सफलता पायी. गिरफ्तार माओवादी के पास से कोई हथियार बरामद नहीं हुआ है. इसके खिलाफ जिले के पीरटांड़ थाना में पांच नक्सल केस, मधुबन थाना में दो, निमियाघाट और बगोदर में एक-एक केस दर्ज है. हाल ही में डुमरी के नावाडीह में निर्माणाधीन डिग्री कॉलेज से लेवी नहीं मिलने के कारण जेसीबी और मिक्सचर मशीन जलाने का मामला उस पर दर्ज है.

एसपी ने बताया कि गिरफ्तारी के बाद माओवादी मनोज राय ने कबूल कर लिया है कि डिग्री कॉलेज में जेसीबी और मिक्सचर मशीन को इसने संगठन के सहयोग से जलाया था. एसपी ने यह भी बताया कि पीरटांड़ में एक पुलिया विस्फोट कर उड़ाने के अलावे कई घटनाओं को इसने अंजाम दिया था. प्रेसवार्ता के दौरान एक सवाल के जवाब में एसपी ने बताया कि मनोज राय का संबध नागो दा के अलावे कृष्णा दा के दस्ते से भी था. साल 2012 में ही यह नागो दा के दस्ते से जुड़ा. नागो दा के जेल जाने के बाद यह पीरटांड़ के कृष्णा दा के दस्ते से जुड़ गया था.

इसे भी पढ़ेंः औंधे मुंह गिरती इकोनॉमीः फिच का चालू वित्त वर्ष में भारतीय अर्थव्यवस्था में 10.5 % की गिरावट का अनुमान

advt
Advertisement

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Related Articles

Back to top button
%d bloggers like this: