GiridihJharkhand

गिरिडीह : चुनाव ड्यूटी पर जा रहे कर्मी के साथ मारपीट, हंगामे के बाद आरोपी सस्पेंड

Giridih: जिले के जमुआ, गिरिडीह सदर प्रखंड और गांडेय के 1281 बूथों में शनिवार को मतदान होना है. इसको लेकर 5 हजार से अधिक मतदान कर्मियों को बैलेट पेपर देकर रवानगी स्थल शुक्रवार को गिरिडीह कॉलेज परिसर में बनाया गया था. लेकिन रवानगी स्थल गिरिडीह कॉलेज परिसर का माहौल ऐसा हुआ की कॉलेज में बने वाहन कोषांग में प्रतिनियुक्ति डीटीओ कार्यालय के जनसेवक गजेंद्र सिंह समेत चार लोगों ने एक मतदान कर्मी को पीट दिया जिसमें कुछ पुलिस कर्मी भी शामिल हैं. जिस मतदान कर्मी को पीटा गया वो हजारीबाग के शंकर प्रसाद है और गिरिडीह के गांडेय के प्लस टू हाई स्कूल में टीचर हैं.

जानकारी के अनुसार शंकर प्रसाद का पहले चरण के मतदान में जिले के जमुआ प्रखंड में ड्यूटी लगा था. बैलेट पेपर लेकर शंकर प्रसाद को जिस गाड़ी से मतदान की ड्यूटी में जाना था. उसी गाड़ी का वाहन पास लेने कॉलेज परिसर के वाहन कोषांग गए हुए थे. जहां पास मिलने में हो रहे देरी के बाद जब शंकर प्रसाद ने डीटीओ कार्यालय के जनसेवक गजेंद्र सिंह से जल्दी पास देने की अपील की तो गजेंद्र सिंह मतदान कर्मी पर उखड़ गए और उनके साथ मारपीट की गई.

इसे भी पढ़ें:बिहार के कानून मंत्री बोले- मौलवियों को वेतन मिलता है तो मंदिर के पुजारियों को भी मिले

घटना के वक्त डीडीसी शशिभूषण मेहरा, प्रोबेशनल आईपीएस हरीश बिन जमा, अपर समाहर्ता विल्सन भेंगरा, सदर एसडीएम विशाल दीप खलको, सदर एसडीपीओ अनिल सिंह और डीएसपी संजय राणा समेत कई सीनियर अधिकारी मौजूद थे.

इसके बाद चुनाव ड्यूटी पर जा रहे मतदान कर्मियो ने हंगामा करना शुरू कर दिया और वहीं धरने पर बैठ गए. जब आक्रोशित कर्मियो को समझाने डीडीसी, एसडीएम और प्रशिक्षु आईपीएस अधिकारी हरीश बिन जमा के साथ एसडीपीओ अनिल सिंह वहां पहुंचे. सभी डीटीओ कार्यालय के आरोपी पर कार्वाई की मांग कर रहे थे.

हालात बिगड़ते देख डीसी नमन प्रियेश लकड़ा ने आरोपी कर्मी गजेंद्र सिंह को सस्पेंडे कर दिया. इसके बाद हालात सामान्य हुआ.

इसे भी पढ़ें:रिम्स में ओपन हार्ट सर्जरी कर डाक्टरों ने Aorta से सूजन हटाया, युवक को दिया नया जीवन

Advt

Related Articles

Back to top button