GiridihJharkhand

गिरिडीह : झरियागादी में ओवरब्रिज निर्माण की प्रक्रिया तेज, पीडब्लूडी ने किया स्थल निरीक्षण

Giridih: गिरिडीह स्टेशन के समीप झरियागादी और अंटा बंगला के बीच प्रस्तावित रेलवे ओवरब्रिज के निर्माण की प्रकिया अब तेज हो चुकी है. सदर विधायक सुदिव्य कुमार सोनू के प्रयास से जहां आसनसोल रेल डिवीजन ने इसकी स्वीकृति दी, वहीं विधायक की अनुशंसा पर हेमत सरकार से ओवरब्रिज निर्माण को मंजूरी दी गयी.
मंगलवार को पथ प्रमंडल के कार्यपालक अभियंता जयकांत राम के साथ पूर्व विधायक ज्योतिन्द्र प्रसाद, झामुमो अध्यक्ष संजय सिंह,

अजीत कुमार पप्पू और शाहनवाज अंसारी व अभय सिंह समेत कई ने झरियागादी व अंटा बंगला के स्थल का निरीक्षण किया.
निरीक्षण के दौरान यह स्पष्ट हो गया कि ओवरब्रिज निर्माण के लिए अब अतिरिक्त जमीन अधिग्रहण की जरूरत नहीं है बल्कि आरओबी निर्माण के लिए रेलवे की जमीन पर्याप्त है.

इसे भी पढ़ें : कांग्रेस ने धान खरीदी के लिए पैक्सों को अधिकृत करने की मांग की

हालांकि स्थल निरीक्षण के दौरान यह स्पस्ट नहीं हो पाया कि निर्माण कार्य का एस्टिमेट कितने का होगा. लेकिन जानकारी देने के क्रम में झामुमो अध्यक्ष ने बताया कि करीब 45 करोड़ की लागत से आरओबी का निर्माण कार्य किया जाना है. इसमें 50 प्रतिशत राशि रेलवे तो 50 फीसदी राशि राज्य सरकार की ओर से भुगतान की जायेगी.

वैसे सदर विधायक सोनू के प्रयास से हेमंत सरकार ने 50 प्रतिशत राशि विमुक्त करने की अनुशंसा पहले ही कर दी थी. लिहाजा मंगलवार को स्थल निरीक्षण के क्रम में पथ प्रमंडल के कार्यपालक अभियंता ने यह स्पष्ट किया कि जल्द ही रेलवे के टेक्नीकल टीम का भी दौरा होगा, जिसमें आरओबी निर्माण का प्रारूप फाइनल किया जायेगा.

इधर स्थल निरीक्षण के दौरान राकेश रंजन, रॉकी सिंह, दिलीप रजक, पप्पू रजक समेत कई कार्यकर्ता मौजूद थे.

इसे भी पढ़ें : धुर्वा की मल्हार कोचा स्लम बस्ती में पहली बार लगा हेल्थ कैंप, शिशुओं का हुआ टीटाकरण

Advertisement

Related Articles

Back to top button
%d bloggers like this: