GiridihJharkhand

गिरिडीह : यूनिसेफ और ज्ञान-विज्ञान समिति के तत्वाधान से “ फिर स्कूल चलें अभियान “ पर कार्यशाला का आयोजन

Giridih : कोरोना के कारण पिछले दो सालों से स्कूल से वंचित ग्रामीण इलाकों के बच्चों को एक बार फिर स्कूल से जोड़ने के अभियान की शुरूआत की गई है. मंगलवार को भारत ज्ञान-विज्ञान समिति गिरिडीह और यूनिसेफ के संयुक्त तत्वाधान में शहर के होटल गैली इंटरनेशनल में फिर स्कूल चलें अभियान विषय पर कार्यशाला का आयोजन किया गया.

कार्यशाला का उद्घाटन डीडीसी शशिभूषण मेहरा ने किया. कार्यशाला में ज्ञान-विज्ञान समिति के महासचिव काशीनाथ सिंह और शिक्षा प्रसार पदाधिकारी विद्यासागर मेहता, सामाजिक कार्यकर्ता रामदेव विश्वबंधु समेत कई लोग शामिल हुए.

advt

मौके पर कार्यशाला को संबोधित करते हुए डीडीसी ने कहा कि शिक्षा के क्षेत्र में ऐसे कार्यक्रम ही बच्चों के मानसिक विकास को तेज करते हैं. महामारी के कारण कक्षा एक से पांच तक के बच्चे अब भी स्कूल के माहौल से दूर हैं.

इसे भी पढ़ें:गड़बड़झालाः झारखंड में 65 हजार बीपीएल किसानों ने बेचा 400 से 1000 क्विंटल तक धान, अब हो रही है जांच

अब उम्मीद जग रही है कि जल्द स्कूल खुलेगें. ऐसे में इस प्रकार के आयोजन से पहले हर अभिभावकों को जोड़ा जाना जरुरी है.

इसे भी पढ़ें:पटना हाइकोर्ट ने राज्य में अमीन के 1767 पदों पर नियुक्ति की निरस्त

इस दौरान कार्यशाला में समिति के महासचिव ने कहा कि बच्चों को जिस प्रकार की शिक्षा मिलनी चाहिए उसमें काफी गिरावट आई है. इसी गिरावट को दूर करने के लिए समुदाय, प्रशासन, जनप्रतिनिधि को आपसी तालमेल के साथ कार्य करने की जरुरत है.

यूनिसेफ और समिति ने अब तय किया कि सदर प्रखंड के आठ पंचायत और जमुआ के सभी प्रखंडो में 134 स्कूलों में सोशल मोबिलाइजर स्कूल स्तर पर शिक्षा केन्द्र का संचालन करेगा.

कार्यशाला में बतौर प्रशिक्षक मुरलीधर प्रसाद, ज्ञानेशवर प्रसाद, बैजनाथ वर्मा, चंद्रगुप्त, शिवशंकर प्रसाद, आलम असांरी, दिवस कुमार, किशोर मुर्मु, मालती सोरेन, रामप्रसाद राणा, असीम सरकार समेत कई मौजूद थे.

इसे भी पढ़ें:मिस्र में मिला 4500 साल पुराना HINDU TEMPLE , भव्यता देखकर पुरातत्वविद भी हुए हैरान

advt

Related Articles

Back to top button
%d bloggers like this: