GiridihJharkhand

गिरिडीह : अधिकारियों ने किया नव अल्ट्रासांउड सेंटर का निरीक्षण, शिकायत पर टाईम स्लॉट बनाकर जांच का निर्देश

Giridih : सीटी स्कैन के लिए सरकारी दर से अधिक के वसूली की जांच करने मंगलवार को अधिकारी बोड़ो के नव अल्ट्रासांउड सेंटर पहुंचे.

टीम में दडांधिकारी धीरेन्द्र कुमार और औषधि निरीक्षक अमित कुमार थे. जिस वक्त दोनों अधिकारी नव अल्ट्रासांउड केन्द्र पहुंचे, उस वक्त जांच के लिए काफी संख्या में मरीज पहुंचे थे.

advt

कई मरीजों ने अधिकारियों को बताया कि जांच शुल्क के लिए कोई अधिक पैसा नहीं देना पड़ रहा है. दरअसल, सीटी स्कैन के लिए पहले से ही राज्य सरकार ने दर कर रखा है. इसमें छाती की जांच के लिए तीन हजार, शरीर के दूसरे हिस्से की जांच के लिए 3500 सौ निर्धारित है.

इसे भी पढ़ें :बिहार में 15 मई तक टोटल लॉकडाउन, ऑफिस बंद रहेंगे, पाबंदियों के साथ शादियां होंगी

जबकि सदर एसडीएम प्रेरणा दीक्षित को पिछले कई दिनों से लगातार शिकायत मिल रही थी कि नव अल्ट्रासांउड सेंटर में मनमाना शुल्क वसूला जा रहा है.

मरीजों ने बताया कि चिकित्सक जांच में एक सप्ताह का वक्त लगा देते हैं. मौके पर एक मरीज के परिजन अधिकारियों की मौजूदगी में ही चिकित्सक की शिकायत करने लगे.

परिजन के इस शिकायत पर सेंटर के डॉक्टर के पास कोई जवाब नहीं था. इस पर अधिकारियों ने चिकित्सक को जांच करने की प्रकिया में सुधार लाने की हिदायत दी. कहा कि टाइम स्लाट लगाकर जांच करें.

ताकि मरीजों को कोई परेशानी नहीं हो. इसके बाद दोनों अधिकारियों ने शहर के कविता मेडिकल, हिन्दुस्तान मेडिकल समेत कई दवा दुकानों की भी जांच की. अधिकारियों ने जीवन रक्षक दवाईयों के स्टॉक देखा. दुकान संचालकों को निर्देश दिया कि दवाओं की कालाबाजारी की शिकायत आने पर सख्त कार्रवाई की जाएगी.

इसे भी पढ़ें :Corona update : Ramdasivir का प्रोडक्शन तीन गुना बढ़ा, जल्द खत्म होगी किल्लत

Advertisement

Related Articles

Back to top button
%d bloggers like this: