न्यूज़ विंग
कल का इंतज़ार क्यों, आज की खबर अभी पढ़ें

गिरिडीह: नक्सलियों का मधुवन बंद असरदार, नहीं खुली दुकानें- यातायात प्रभावित

126

Giridih: गिरिडीह के प्रसिद्ध जैन तीर्थस्थली मधुवन में नक्सलियों के 2 दिन के बंद के पहले दिन शुक्रवार को खासा असर देखने को मिल रहा है. नक्सलियों के बंद के कारण मधुबन बाजार की अधिकांश दुकानें बंद है. वही यात्री वाहनों का परिचालन बंद है. सड़क पर भी सन्नाटा पसरा हुआ है.

इसे भी पढ़ेंःIAS का दबदबा, तीन इंजीनियर इन चीफ, 25 चीफ इंजीनियर दरकिनार, बिजली बोर्ड में CMD का है पॉलिटिकल पोस्ट

डोली मजदूरों पर अन्याय के खिलाफ बुलाया बंद

गौरतलब है कि डोली मजदूरों के समर्थन में ही नक्सलियों ने दो दिन का मधुवन बंद बुलाया है. बता दें कि कुछ माह से पारसनाथ पर्वत वंदना के लिए कुछ लोगों ने बाइक से यात्रियों को पर्वत पर ले जाने का काम शुरू कर दिया था. इससे सैकड़ों डोली मजदूरों की रोजी-रोटी पर संकट आ गया है. मधुवन के डोली मजदूरों ने इसका विरोध कर प्रशासन से इस पर रोक लगाने की गुहार लगाई थी. सीएम के आदेश के बावजूद स्थानीय प्रशासन और जैन संस्थानों ने इस मसले को सुलझाने का कोई गंभीर प्रयास नहीं किया. इसी कारण नक्सलियों ने डोली मजदूरों की मांगों के पक्ष में 12 और 13 अक्टूबर को दो दिवसीय मधुबन बंद की घोषणा की.

इसे भी पढ़ेंःराजधानी के कर्बला चौक पर सिलिंग की जिस जमीन से डायमंड कंस्ट्रक्शन ने खींचा था हाथ, उस पर बन गया संतुष्टि अपार्टमेंट !

बंद से तीर्थयात्रियों को परेशानी

बंद से सबसे ज्यादा प्रभावित यहां आने वाले यात्री हो रहे हैं. बाजार और यातायात बंद रहने के कारण तीर्थ यात्रियों को काफी परेशानी हो रही है. इसके अलावा जिन यात्रियों को शुक्रवार को निकलना था, वे भी वाहनों के परिचालन ठप रहने के कारण यहां फंसे हुए हैं. कुल मिलाकर नक्सलियों के बंद का मधुवन में व्यापक असर पड़ा है.

इसे भी पढ़ेंःहैं CS रैंक के अफसर, काम कर रहे स्पेशल सेक्रेट्री का, कम ग्रेड पे पर भी काम करने को तैयार IFS अफसर

हमें सपोर्ट करें, ताकि हम करते रहें स्वतंत्र और जनपक्षधर पत्रकारिता...

Get real time updates directly on you device, subscribe now.

Comments are closed.

%d bloggers like this: