न्यूज़ विंग
कल का इंतज़ार क्यों, आज की खबर अभी पढ़ें

गिरिडीह : मनरेगा कर्मियों ने किया भिक्षाटन, सरकार पर लगाया शोषण का आरोप

इस दौरान मनरेगा कर्मियों ने सरकार की नीतियों की आलोचना कर अपनी मांगों के समर्थन में नारे लगाए.

115

Giridih : झारखण्ड राज्य मनरेगा कर्मचारी संघ के आह्वान पर गिरिडीह के मनरेगा कर्मियों ने शुक्रवार को भिक्षाटन कार्यक्रम किया. शहर के झंडा मैदान से कर्मियों ने भिक्षाटन कार्यक्रम की शुरुआत करते हुए टॉवर चौक, कालीबाड़ी, मकतपुर होते हुए वापस टॉवर चौक पहुंचे और यहां एक सभा की. इस दौरान मनरेगा कर्मियों ने सरकार की नीतियों की आलोचना कर अपनी मांगों के समर्थन में नारे लगाए.

इसे भी पढ़ें : फर्जी नक्सली सरेंडर मामले में दो नवंबर को होगी अंतिम सुनवाई

 मनरेगा कर्मियों से लगातार भेदभाव

सभा को संबोधित करते हुए संघ के जिलाध्यक्ष विनोद विश्वकर्मा ने कहा कि बीते ११ वर्षों से मनरेगा कर्मी अल्प मानदेय पर काम करते आ रहे हैं, लेकिन फिर भी सरकार स्थायीकरण या सामान काम, सामान वेतन देने के लिए तैयार नहीं है. इसलिए बाध्य होकर मनरेगा कर्मियों को आंदोलन पर जाना पड़ा. जिला सचिव टहल रविदास ने कहा कि सरकार लगातार मनरेगा कर्मियों का शोषण करती आ रही है. जिसे अब बर्दास्त नहीं किया जायेगा. उन्होंने कहा कि मनरेगा कर्मियों की हालत आज यह हो गई है कि उन्हें भिक्षाटन करना पड़ रहा है. इस बार का आंदोलन सशक्त होगा और मांगे पूरी नहीं होने तक आंदोलन जारी रहेगा.

इसे भी पढ़ें : लोकसभा चुनाव से पहले कांग्रेस का झामुमो पर पॉलिटिकल प्रेशर, चाईबासा सीट पर पेंच

ये थे शामिल

भिक्षाटन कार्यक्रम की अध्यक्षता जिलाध्यक्ष विनोद विश्वकर्मा ने किया. जबकि संचालन जिला सचिव टहल रविदास कर रहे थे. वहीं इस कार्यक्रम में काफी संख्या में मनरेगा कर्मी मौजूद थे.

इसे भी पढ़ें : विक्की हत्याकांड : गैंग्स की नगरी से तीन अभियुक्तों को उम्रकैद

हमें सपोर्ट करें, ताकि हम करते रहें स्वतंत्र और जनपक्षधर पत्रकारिता...

%d bloggers like this: