Crime NewsGiridihJharkhand

गिरिडीह : किसान आंदोलन को समर्पित रहा महेंद्र सिंह का शहादत दिवस, बनायी 100 किलोमीटर लंबी मानव श्रृंखला

Giridih : लाल झंडे के नीचे किसान-मजदूर और शोषितों की आवाज बुलंद करनेवाले पूर्व विधायक महेंद्र सिंह के 16वें शहादत दिवस को वामपंथी समर्थकों ने किसान आंदोलन को समर्पित किया. किसान आंदोलन को समर्पित शहादत दिवस की शुरुआत बगोदर में माले कार्यालय में महेंद्र सिंह की आदमकद प्रतिमा पर नेताओं और कार्यकर्ताओं ने माल्यार्पण कर की.

इसे भी पढ़ें : देखिये वीडियो- साइबर क्राइम पर क्या कह रहे हैं पूर्व मंत्री रणधीर सिंह

100 किलोमीटर लंबी मानव श्रृंखला बनायी

इस दौरान जहां दो मिनट का मौन रखकर महेंद्र सिंह को श्रद्धांजलि दी गयी, वहीं नेताओं के साथ कार्यकर्ताओं ने संकल्प लिया कि कृषि कानून वापस कराये बगैर किसान आंदोलन को भाकपा माले भी छोड़ने के लिए तैयार नहीं. इस मौके पर 100 किमी लंबी मानव श्रृखंला बनायी गयी थी. कोडरमा से लेकर गिरिडीह तक इस मानव श्रृंखला में वामपंथी आंदोलनकारी जुटे थे.

तीनों कृषि कानूनों के खिलाफ दिल्ली में चल रहे किसान आंदोलन के समर्थन में बनायी गयी मानव श्रृंखला का गांवा में पार्टी के पूर्व विधायक राजकुमार नेतृत्व कर रहे थे, तो जिले के अलग-अलग प्रखंडों में भी मानव श्रृंखला का नेतृत्व करने के लिए माले नेताओं व कार्यकर्ताओं की भीड़ एक-दूसरे का हाथ थामकर खड़ी थी.

बगोदर में मानव श्रृंखला का नेतृत्व विधायक विनोद सिंह ने किया. उनके साथ बिहार के आठ माले विधायकों में काराकाट रोहतास विधायक अरुण सिंह, घोषी विधायक रामबिलासी यादव, राजेश यादव, राजेश सिन्हा, मो नौशाद अहमद चांद समेत कई शामिल थे. मौके पर बगोदर के माले कार्यकर्ता विजय सिंह, रिंकू सिंह, भोला मंडल, सोनू पांडेय, लक्ष्मण मंडल, महेंद्र मंडल, अमन पांडेय, विराट सिंह, अमित मंडल, जिम्मी चौरसिया, अखिलेश कुमार, प्रदीप मंडल और रेणु रवानी मौजूद थे.

बगोदर में मानव श्रृंखला को संबोधित करते हुए विधायक विनोद सिंह और विधायक अरुण सिंह ने कहा कि मोदी सरकार ने हठधर्मिता की सारी सीढ़ियां पार कर दी हैं. बात-बात पर भावुक होनेवाले मोदी सरकार को यह भी अहसास नहीं कि उनकी हठधर्मिता के कारण हजारों किसान दिल्ली में कड़ाके की ठंड में आंदोलन करने को मजबूर हैं.

इधर, गांवा में मानव श्रृंखला में उमड़े जनसमूह को संबोधित करते हुए पूर्व विधायक राजकुमार यादव ने कहा कि यह मानव श्रृंखला लाल झंडे के विचारों की है, जो किसान, मजदूर और शोषितों के हक की लड़ाई लड़ता है.

इसे भी पढ़ें : बन्ना गुप्ता ने केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्री से की मांग- मीडियाकर्मियों को मिले टीकाकरण का लाभ

Advertisement

Related Articles

Back to top button
%d bloggers like this: