Crime NewsGiridihJharkhand

गिरिडीह: मायके से लौटी विवाहिता की ससुराल में संदिग्धावस्था में मौत

Giridih: रक्षाबंधन जैसे पावन पर्व के दिन भी विवाहिता को अपनी जान से हाथ धोना पड़ा. जबकि विवाहिता अपने मायके भाई के साथ राखी का पर्व मनाने पहुंची थी. गिरिडीह के अहिल्यापुर थाना क्षेत्र के पर्वतपुर में शुक्रवार को इस घटना ने मृतिका के मायके वालों को बेबसी के आंसू रोने को मजबूर कर दिया. घटना के बाद मृतका राबड़ी देवी की मां रुकमणी देवी ने थाना में आवेदन देकर दामाद पप्पू पासवान व उसके भाई टिंकू पासवान और पिता नारायण पासवान समेत पड़ौसी पांडेय हाजरा, पांचू हाजरा, शिबू हाजरा के खिलाफ साजिश कर हत्या करने का केस दर्ज कराई है. इधर थाना को दिए आवेदन में रुकमणी देवी ने बेटी के हत्या के आरोपियों पर आरोप लगाते हुए कहा कि उसकी बेटी राबड़ी देवी गुरुवार को ही अपने मायके अहिल्यापुर रक्षाबंधन मनाने पहुंची थी. जबकि दूसरे दिन शुक्रवार दोपहर उसके दामाद पप्पू पासवान भी बेटी को लेने अहिल्यापुर पहुंच गया. और पत्नी को पर्वतपुर साथ चलने को कहा. लेकिन बेटी ने भाई के साथ रक्षाबंधन का पर्व मनाने की बात कहकर जाने से इनकार कर दी. इसके बाद दामाद उनकी बेटी को जबरदस्ती अपने घर पर्वतपुर ले गया. इसके कुछ घंटे बाद ही पर्वतपुर से महावीर हाजरा ने फोन कर बताया कि उनकी बेटी पलंग पर बेहोश पड़ी हुई है. जानकारी मिलने के बाद मृतका की मां भी जब बेटी के ससुराल पहुंची, तो देखा कि बेटी का शव पंलग पर पड़ा हुआ है. और गले में खरोंच के निशान है. जबकि दामाद समेत सभी आरोपी घर से फरार है. इधर रुकमणी देवी के आवेदन पर पुलिस मामले की जांच में जुट गई है. और आरोपियो के गिरफ्तारी के प्रयास में जुटी हुई है.

इसे भी पढ़ें: कोडरमा: दो गांजा तस्करो को 20 साल सश्रम कारावास की सजा

Related Articles

Back to top button