GiridihJharkhand

मुंद्रा राइस मिल विवाद को गिरिडीह माले ने बनाया राजनीति वर्चस्व की लड़ाई

Giridih : मुंद्रा राइस मिल मामले का विवाद थमने का नाम नहीं ले रहा है. एक तरफ जहां जेएमएम के सदर विधायक सुदिव्य कुमार सोनू ने माले को मजदूर की मौत पर ओछी राजनीति से दूर रहने का नसीहत दी थी. जबकि मामला पूरी तरह से मुस्लिम तुष्टिकरण का बन चुका था. क्योंकि मुआवजा दिलाने से शुरू हुआ विवाद इसके बाद पथराव की घटना के बाद पथराव करने वाले युवकों को निर्दोष बताने में बदल गया.

इसे भी पढ़ें :बिहार में कोरोना की रफ्तार तेज, 4551 नए मामले आए सामने , पटना में 1218 केस मिले

माले ने इस दौरान जेल भेजे गए युवकों पर केस करने का आरोप जेएमएम पर मढ़ दिया. वहीं अब माले नेत्री प्रीति भास्कर ने मंगलवार को जेएमएम नेताओ के साथ फैक्ट्री प्रबंधन और जिला प्रशासन पर जोरदार हमला करते हुए कहा की माले के दोनों नेताओं पर इस मामले में झूठा केस दर्ज कराया गया. क्योंकि पथराव की घटना में दोनों में कोई माले नेता नहीं थे. इसके बाद भी दोनों पर झूठा केस दर्ज किया गया.

इसे भी पढ़ें :झारखंड प्रशासनिक सेवा के दो पदाधिकारियों का तबादला

Advt

Related Articles

Back to top button